Opinion

अरुणाचल प्रदेश और खासकर राजधानी इटानगर में 'पीआरसी' मसले पर बीते कई महीनों से आक्रोश है। जहां इटानगर और नामसाई के लोग पीआरसी के बारे में राज्य सरकार का विरोध कर रहे हैं वहीं महादेवपुर (लेकांग) के लोग पीआरसी के पक्ष में रास्ता जाम कर अपना विरोध जता रहे हैं।

जयपुर: कोई लौटा दे मेरे बीते हुए दिन, बीते हुए दिन मेरे प्यार पलछीन, इसी तरह जगजीत सिंह की गजल- ये दौलत भी ले लो, ये शोहरत भी ले लो, भले छीन लो मुझसे मेरी जवानी, मगर मुझको लौटा दो बचपन का सावन, वो कागज़ की कश्ती, वो बारिश का पानी। जी हां ! इन …

मौजूदा समय देश की एकता और अखंडता के सवाल का है। यह स्थिति एक दिन में नहीं बनी है। लंबे समय तक जम्मू-कश्मीर की सत्ता पर या तो फारुख अब्दुल्ला का परिवार हावी रहा या मुफ्ती मोहम्मद सईद का। केंद्र में कांग्रेस की सत्ता भी करेले पर नीम चढ़ा वाली कहावत को चरितार्थ करती रही। …

कुछ दिनों पहले ही कश्मीर के बारामुला जिले को आतंकमुक्त क्षेत्र घोषित किया गया। ऑपरेशन ऑल आउट के दौरान सेना ने पांच सौ आतंकियों को जहन्नुम पहुंचाया परंतु वेलेंटाइन डे पर एक आत्मघाती आतंकी हमले में केंद्रीय आरक्षी बल के 44 जवान शहीद हुए और कई दर्जन घायल हो गए। इन तीन पंक्तियों में विरोधाभास …

देश में बेतहाशा बढ़ती आबादी के बीच लगता है कि जनसंख्या नियंत्रण का काम सिर्फ महिलाओं के जिम्मे है। देश में नसबंदी के आंकड़े तो यही बताते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि विश्व में मात्र 2.4 प्रतिशत पुरुष ही नसबंदी करवाते हैं। भारत में पिछले साल 39 लाख 51 हजार 972 महिला-पुरुषों के नसबंदी करवाने का आंकड़ा हैं, जबकि इनमें 78,362 पुरुषों ने ही नसबंदी करवाई।

वैलेंटाइन डे फिर आया और चला गया। कुछ सालों पहले तक इस बारे में हमारे देश में बहुत ही कम लोग जानते थे। अगर आप सोच रहे हैं कि केवल इसे चाहने वाला युवा वर्ग ही इस दिन का इंतजार विशेष रूप से करता है तो आप गलत हैं। आज के भौतिकवादी युग में जब …

संयुक्त अरब अमीरात यानी दुबई और अबूधाबी ने ऐतिहासिक फैसला लेते हुए अरबी और अंग्रेजी के बाद हिंदी को अपनी अदालतों में तीसरी आधिकारिक भाषा के रूप में शामिल कर लिया है। इसका मकसद हिंदी भाषी लोगों को मुकदमे की प्रक्रिया, उनके अधिकारों और कर्तव्यों के बारे में सीखने में मदद करना है। न्याय तक …

यदि हम ठीक प्रकार से नींद ले पाते हैं तो काम करने के लिए भली प्रकार तैयार हो पाते हैं और फिर स्वस्थ, प्रसन्न, शांत व तरोताजा मन से कार्य कर पाते हैं। इसी तरह मन को उत्साहित करने का कार्य छोटे-छोटे खेल करते हैं। काम की भागमभाग में थोड़ा-सा खेल हमारे तन व मन पर गजब का असर डालता है।

अमा मुख्यमंत्री आदित्यनाथ को कोई समझाए, भला ऐसे खफा होते हैं। जरा सी बात पर इतना गुस्सा…अरे भई, विधानमंडल का बजट सत्र था, राज्यपाल का अभिभाषण था, अब ऐसे में विपक्ष ने राज्यपाल राम नाईक पर कागज के गोले फेंक ही दिए तो कौन सा गुनाह कर दिया। सरकार विरोधी तख्तियां ही तो लहराई थीं। …

जीनियस कॉफी की प्याली आगे रखे मेरे सामने बैठा था। मैं उस आदमी को ध्यान से देख रहा था। मेरे साथी ने बताया था कि यह जीनियस है और मैंने सहज ही इस बात पर विश्वास कर लिया था। उससे पहले मेरा जीनियस से प्रत्यक्ष परिचय कभी नहीं हुआ था। इतना मैं जानता था कि …