Top

चौकी इंचार्ज को गाली देना पड़ा भारी, बीच बाजार हुई चप्पलों से पिटाई, आरोपी फरार

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 30 July 2017 3:25 PM GMT

चौकी इंचार्ज को गाली देना पड़ा भारी, बीच बाजार हुई चप्पलों से पिटाई, आरोपी फरार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: घर के बाहर खूंटा गाड़ने को लेकर दो पड़ोसी आपस में भिड गए, बात इतनी बढी की दोनों पक्षों ने एक दूसरे के घर पर पथराव कर दियाl जब बवाल की सूचना पर डायल 100 के सिपाही घटनास्थल पर आए तो दबंगों ने उन्हें भी बंधक बना लियाl

पुलिस वालों के बंधक बनाए जाने की खबर पर जब साढ़ चौकी इंचार्ज वहां पहुंचे तो उन्होंने सिपाहियों को मुक्त कराया और दोनों पक्षों को चौकी ले आयेl यहाँ दोनों पक्षों को लॉकअप में बंद कर दिया इसपर उनमें मारपीट होने लगीl जब चौकी इंचार्ज ने बीच बचाव किया तो एक पक्ष की महिला व उसके भाई ने चौकी इंचार्ज को बाल पकड़ कर चौकी से बाहर खीँच लिया, और बीच बाजार उनकी चप्पलों से पिटाई कर दीl

ये भी देखें:कलाम की मूर्ति के पास गीता रखने पर जब हुआ विवाद, परिजनों ने रख दी कुरान-बाइबिल

घाटमपुर थाना क्षेत्र स्थित साढ़ चौकी के अंतर्गत बैजूपुर गाँव हैl गाँव में दो दबंग परिवार हैं, और दोनों ही पड़ोसी हैंl एक परिवार है, जगरूप यादव का इनके परिवार में पत्नी जगईदेवी, बेटा ब्रजेन्द्र यादव बहु केशकली हैl वहीँ दूसरा परिवार है, रामशंकर यादव का इनके दो बेटे अभिलाष और कृष्णकांत हैं रामशंकर के दो बेटी कल्ली व लल्ली भी हैंl

जानकारी के मुताबिक, घर के बाहर खूंटा गाड़ने को लेकर दोनों पड़ोसी आपस में भिड गए, बात इतनी बढ़ गई कि एक दूसरे के घर पर पथराव कर दियाl इस पथराव में जगईदेवी घायल हो गई जिनका उपचार घाटमपुर सीएचसी में चल रहा हैl

बवाल की सूचना पर गाँव आए डायल 100 के सिपाहियों को बवालियों ने बंधक बना लियाl जब सिपाहियों ने इसकी सूचना साढ़ चौकी इंचार्ज त्रिवेणी दत्त पाण्डेय को दी, तो चौकी इंचार्ज मय फ़ोर्स गाँव पहुंचे और सिपाहियों को उनके चुंगल से छुड़ायाl इसके बाद समझा-बुझा कर दोनों पक्षों को चौकी ले आयेl

ये भी देखें:लार्ड माउंटबेटन की बेटी का खुलासा- एडविना और नेहरू के बीच नहीं था जिस्मानी रिश्ता

ग्रामीण भोला यादव के मुताबिक चौकी इंचार्ज ने दोनों पक्षों को लॉकअप में बंद कर दियाl तो दोनों पक्ष लॉकअप के अंदर ही एक दूसरे को मारने पीटने लगेl इससे नाराज चौकी इंचार्ज दोनों पक्षों को बाहर निकाल उनके साथ गाली गलौज करने लगेl बस इतनी ही देर में अभिलाष, कृष्णकांत और इनकी बहन कल्ली ने चौकी इंचार्ज के बाल पकड़ कर चौकी से बाहर खीँच लिया और पीटना शुरू कर दियाl कल्ली ने चौकी इंचार्ज को चप्पलों से पीटाl चौकी में मौजूद सिपाही व वहां खड़े लोग तमाशा देखते रहेl मौका देख पिटाई करने वाले बाइक स्टार्ट कर भाग गएl

जब इसकी सूचना आलाधिकारियों को हुई, तो पुलिस महकमे में हडकंप मच गयाl एसपी ग्रामीण, सीओ घाटमपुर समेत आधा दर्जन थानों की फ़ोर्स गाँव पहुची और दबंग महिला कल्ली को हिरासत में ले लियाl जबकि उसके भाई अभी फरार हैl

देखें तस्वीरें:

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story