Top

पीएम मोदी की काशी में सबसे बड़ी डकैती, दस करोड़ से अधिक का माल लेकर फरार

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 8 April 2017 3:46 PM GMT

पीएम मोदी की काशी में सबसे बड़ी डकैती, दस करोड़ से अधिक का माल लेकर फरार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

वाराणसी : शहर के व्यस्त इलाके चौक के ठठेरी बाजार में सीताराम ज्वेलर्स नाम की दुकान से 6 बदमाशो ने असलहों के बल पर लगभग 10 करोड़ रुपये मूल्य का सोना और हीरे लूट लिए। सीताराम ज्वेलर्स शहर की बड़ी फर्मो में शुमार है, और पूर्वांचल से लेकर बिहार तक इनका व्यापार फैला हुआ है।

ये भी देखें : सेकेंड सैटरडे को कॉलेज खोलने पर हंगामा, कर्मचारियों और टीचरों में जमकर मारपीट

प्राप्त जानकारी के अनुसार आज लगभग 4.30 बजे के करीब दुकान के सेकेंड फ्लोर पर ग्राहक बन कर 2 लोग आए। और लॉकेट दिखाने को कहा, बाद में उनके 4 और साथियों ने दुकान में मौजूद स्टाफ और ग्राहकों को असलहे की नोक पर ले लिया। बदमाशों ने टीवी के डीवीआर को पटक के तोड़ने के साथ दुकान में मौजूद लोगों का मोबाइल फोन भी छीन लिया। बेख़ौफ़ बदमाशों ने अलमारी से सारा माल बटोरा और फरार हो गए, दुकानदार के मुताबिक लगभग 10 करोड़ की डकैती हुई है।

डकैती की सूचना पर प्रभारी एसएसपी आशीष तिवारी आईजी जोन एन रविन्द्र, आदि अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे क्राइम ब्रांच की टीम मौके पर जांच में जुटी है। आसपास की दुकानों और मकानों में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज तलाशे जा रहे हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story