Top

कटी गर्दन लेकर दौड़ रहा था युवक, पब्लिक ने रोका तो हो गया बेहोश

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 21 Jun 2018 1:15 PM GMT

कटी गर्दन लेकर दौड़ रहा था युवक, पब्लिक ने रोका तो हो गया बेहोश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सहारनपुर: संदिग्ध परिस्थितियों में धारदार हथियार से युवक की गुरूवार को गर्दन रेत दी गई। लहुलुहान हालात में युवक को दौड़ता देखकर लोगों में सनसनी फैल गई। आनन-फानन में घायल को सीएचसी लाया गया जहां से गम्भीर अवस्था में उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। घायल युवक के बोलने की हालत में न होने के चलते घटना की वजह पता नहीं चल सकी। जबकि घटना को लेकर नगर में विभिन्न चर्चाएं जोरों पर हैं। वहीं, घायल युवक के परिजनों ने अज्ञात लोगों पर हत्या के प्रयास का आरोप लगाया है।

पब्लिक के रोकते ही हुआ बेहोश

देवबंद कस्बे के मोहल्ला जाटव बस्ती निवासी सुशील(38) पुत्र स्वर्गीय ओमप्रकाश गुरुवार को कहीं बाहर जाने की बात कहते हुए अपने घर से निकला था। शाम करीब पांच बजे बजे सुशील करंजाली रोड शहीद की गोहर की ओर से लहुलुहान हालत में तल्हेड़ी चुंगी की ओर भागता हुआ आया और गर्दन कटी हुई होने के कारण मौके पर ही बेहोश होकर गिर गया। लहुलुहान हालत में युवक को देख मौके पर मौजूद लोगों में हड़कम्प मच गया। जब पब्लिक ने उसे रोक कर मदद करनी चाही तो युवक बेहोश हो गया। सूचना मिलने पर आनन-फानन में पहुंची पुलिस ने घायल युवक को सीएचसी में भर्ती कराया। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे गम्भीर अवस्था में हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। गम्भीर रूप से गर्दन कटी हुई होने के कारण घायल युवक बोलने की स्थिति में नहीं था। जिसके चलते घटना की असल वजह पता नहीं चल सकी।

अज्ञात पर हत्‍या के प्रयास का आरोप

घटना की जानकारी होने पर सीएचसी पहुंचे घायल सुशील की माता ज्ञानवती और बहन रंजीता का कहना है कि सुशील की पिछले कुछ दिनों से दिमागी हालत ठीक नहीं है। करीब एक बजे वह कहीं बाहर जाने की बात कहते हुए घर से निकला था। उन्होंने अज्ञात लोगों पर सुशील की हत्या के प्रयास का आरोप लगाया है। सीओ सिद्धार्थ सिंह ने बताया कि घटना की जांच की जा रही है। सुशील के बोलने की स्थिति में आने पर ही सही घटना पता चल सकेगी। तहरीर के आधार पर आगे की कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story