Top

हापुड़: उत्तराखंड पुलिस की कस्टडी से कैदी फरार, पुलिस विभाग में मचा हड़कंप 

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 17 Sep 2018 1:33 PM GMT

हापुड़: उत्तराखंड पुलिस की कस्टडी से कैदी फरार, पुलिस विभाग में मचा हड़कंप 
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हापुड़: मुंबई से ट्रांजिट रिमांड पर लेकर उत्तराखंड के जिला ऊधमसिंह नगर ले जाया जा रहा एक बदमाश सोमवार सुबह पुलिस हिरासत से हथकड़ी सहित फरार हो गया। उस पर एक प्रापर्टी डीलर की हत्या करने का आरोप है। पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र के मोनाड विश्वविद्यालय को जाने वाले मार्ग के निकट पीछे से तेज गति से आए एक कैंटर ने पुलिस वाहन को टक्कर मार दी। इसी बीच अंधेरे का लाभ उठाकर शातिर बदमाश फरार होने में कामयाब हो गया। सूचना मिलने पर पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। कई थानों के पुलिस बल के साथ अपर पुलिस अधीक्षक घटनास्थल पर पहुंचे। उनके आदेश पर जनपद की सीमाओं को सील कर बदमाश की तलाश की गई, लेकिन उसका पता नहीं लग सका ।

पुलिस को ऐसे दिया चकमा

सोमवार दोपहर में पिलखुवा कोतवाली में बदमाश के फरार होने का मुकदमा दर्ज कराया गया है। पांच टीमों को बदमाश की गिरफ्तारी के लिए विभिन्न क्षेत्रों में दबिश देने के लिए भेजा गया है। पुलिस के अनुसार जिला ऊधमसिंह नगर के थाना किच्छा निवासी प्रापर्टी डीलर समीर की मई माह में आदित्य चौक पर दिनदहाड़े पांच बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड में मृतक के व्यापारिक साझेदार जनपद बरेली के नानकपुरी टांडा निवासी रणदीप सिंह का नाम भी शामिल है। किच्छा पुलिस ने इस घटना में शामिल चार बदमाश पहले ही गिरफ्तार कर लिए थे, लेकिन रणदीप सिंह फरार चल रहा था। जिसकी पुलिस टीम तलाश कर रही थी। पिछले दिनों मुंबई में रणदीप सिंह को गिरफ्तार किया था। किच्छा थाने के सब इंस्पेक्टर विनोद जोशी, कांस्टेबिल संजय धोनी और राजेंद्र रणदीप को मुबई से विमान में दिल्ली लाए। वहां से एक निजी कार में बैठाकर उसे ऊधमसिंह नगर लेकर जा रहे थे। सोमवार तड़के करीब साढ़े चार बजे मोनाड विवि को जाने वाले मार्ग के निकट पीछे से तेज गति से आए कैंटर ने उनकी कार में टक्कर मार दी। टक्कर लगने के बाद पुलिस कर्मी कार रोककर नीचे उतर कर देखने लगे, तभी बदमाश मौका पाकर हथकड़ी सहित फरार हो गया। पुलिस टीम ने उसे पकड़ने का भरसक प्रयास किया, लेकिन वह सफल नहीं हो सके।

बार्डर सील कराकर शुरू सर्च आपरेशन

किच्छा पुलिस ने इस बात की सूचना जपनद हापुड़ की पुलिस को दी। सूचना मिलने पर अपर पुलिस अधीक्षक राम मोहन सिंह, पिलखुवा पुलिस, हापुड़ पुलिस, धौलाना पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और जनपद की सीमाओं को सील कराकर फरार आरोपित की तलाश की गई। काफी प्रयास के बाद भी फरार आरोपित का सुराग नहीं लग सका। पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने बताया कि पिलखुवा कोतवाली में किच्छा थाने के आरक्षी सचिन धोनी की ओर से इस घटना का मुकदमा पंजीकृत कराया गया है। रणदीप सिंह को गिरफ्तार करने के लिए पांच टीमों का गठन किया गया है। उसकी तलाश में कई टीमों को विभिन्न क्षेत्रों में रवाना कर दिया गया है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story