Top

गणपति बप्पा के पूजा पंडाल में जूते पहनकर पहुंच गए 5 युवक, फिर जो हुआ वह...

By

Published on 1 Sep 2017 5:46 AM GMT

गणपति बप्पा के पूजा पंडाल में जूते पहनकर पहुंच गए 5 युवक, फिर जो हुआ वह...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बहराइच: रिसिया नगर क्षेत्र के मोहल्ला इंदिरा नगर में स्थित गणेश पूजा पंडाल में आरती की तैयारी हो रही थी। उसी समय पड़ोसी मोहल्ले के पांच युवक पंडाल में घुस आए। सभी ने उत्पात मचाते हुए सामान फेंक दिया। पुजारी के विरोध करने पर अपशब्दों का प्रयोग कर अभद्रता की। समिति के पदाधिकारी दौड़े तो युवक जानमाल की धमकी देते हुए फरार हो गए।

यह भी पढ़ें: नहर में मिला बाघ का शव, वन विभाग में हड़कंप, दहशत में लोग

जैसे-तैसे आरती का कार्यक्रम निपटने के बाद सैकड़ों की संख्या में लोगों ने थाने पहुंचकर नारेबाजी करते हुए घेराव किया। स्थिति गंभीर देखकर रिसिया के साथ दरगाह थाने की पुलिस बुलाई गई। सीओ भी मौके पर पहुंचे। लोगों को समझा बुझाकर शांत किया गया। केस दर्ज कर आठ स्थानों पर छापेमारी की गई। सभी पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। पूजा पंडाल में बवाल के चलते अफरा-तफरी की स्थिति देर तक बनी रही।

क्या है पूरा मामला

-प्राप्त समाचार के अनुसार रिसिया थाना अंतर्गत कस्बे के मोहल्ला इंदिरा नगर में हनुमान मंदिर परिसर में गणेश पूजा महोत्सव का आयोजन चल रहा था।

-उसी के तहत रात साढ़े नौ बजे के आसपास आरती कार्यक्रम में शामिल होने के लिए मोहल्ले के लोग एकत्रित हो रहे थे।

-इसी समय मोहल्ला देवीपुरा व ऋषिभूमि निवासी पांच युवक पंडाल में जूता पहनकर घुस आए।

यह भी पढ़ें: बकरीद पर शहर में रहेगी कड़ी सुरक्षा व्यवस्था, खुले स्थान पर नहीं होगी कुर्बानी

-पुजारी ने विरोध किया तो उसे धकेलकर अपशब्दों का प्रयोग करते हुए अभद्रता की और सामान फेंक दिया।

-चीख पुकार सुनकर पूजा समिति के लोग दौड़े। इस पर युवक लाठी-डंडे लहराते हुए जानमाल की धमकी देकर फरार हो गए।

-आरती का समय होने के चलते श्रद्धालुओं के साथ कार्यक्रम निपटाया गया।

पूजा समिति के लोग पहुंचे थाने

-इसके बाद पूजा समिति के अध्यक्ष सौरभ शर्मा उर्फ गोबरी शर्मा की अगुवाई में सैकड़ों की संख्या में लोग रिसिया थाने पहुंच गए।

-पंडाल में उत्पात मचाने वाले लोगों की गिरफ्तारी कर कार्रवाई की मांग करने लगे।

-इससे अफरा-तफरी की स्थिति बन गई। प्रभारी निरीक्षक आरपी यादव ने तत्काल एसपी सुनील सक्सेना को मामले से अवगत कराया।

यह भी पढ़ें: फरंगी महली की अपील: बकरीद पर 10 फीसदी कम खर्च कर करें बाढ़ पीड़ितों की मदद

-एसपी के निर्देश पर सीओ केके चौहान व दरगाह थाने की पुलिस मौके पर भेजी गई।

-दरगाह व रिसिया पुलिस ने किसी तरह भीड़ को काबू में किया। सीओ ने कार्रवाई का आश्वासन दिया।

तत्काल कमेटी के अध्यक्ष सौरभ की तहरीर पर केस दर्ज किया गया। इसके बाद लोग शांत हुए।

-देर रात तक हंगामे की स्थिति रही।

Next Story