Top

ट्रेन से उतरने में घायल हुआ था युवक, GRP ने तड़पता छोड़ दिया, मौत

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 25 Aug 2018 12:54 PM GMT

ट्रेन से उतरने में घायल हुआ था युवक, GRP ने तड़पता छोड़ दिया, मौत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हरदोई: जिले के संडीला में रेलवे पुलिस का संवेदनहीन चेहरा सामने आया है। ट्रेन से गिरकर घायल युवक को अस्पताल में छोड़कर जीआरपी के जवान भाग गए। डॉक्टरों ने जब उसे इलाज के लिए लखनऊ रिफर किया तो जीआरपी वाले भाग निकले जिससे इलाज के अभाव में युवक की सीएचसी पर ही मौत हो गयी।

ट्रामा सेंटर ले जाने के बजाए तड़पता छोड़ा

हरदोई की उमरताली स्टेशन पर चलती ट्रेन से उतरने के प्रयास में ट्रेन के नीचे आने से 30 वर्षीय अज्ञात युवक गंभीर रूप से घायल हो गया था। जिसे स्टेशन मास्टर ने जीआरपी के दो कर्मियों के साथ संडीला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा था।। जहां डॉक्टरों ने उसकी नाज़ुक हालत को देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया था। मगर संवेदनहीन जीआरपी कर्मी युवक को ट्रामा सेंटर लेजाने के बजाय उसे सीएचसी पर ही छोड़कर भाग गए।

सीएचसी में नहीं मिला समुचित इलाज

सीएचसी के डॉक्टर किसी तरह के उसका उपचार करते रहे लेकिन समुचित इलाज न हो पाने के कारण युवक ने दम तोड़ दिया। युवक की अब तक शिनाख़्त नहीं हो पाई है। जिसके बाद डॉक्टरों ने संडीला पुलिस को सूचना भेजी।

सीएचसी अधीक्षक शरद वैश्य का कहना है कि जीआरपी के दो कर्मी युवक को अस्पताल लाये थे। ट्रामा ले जाने की बात पर टालमटोल करते हुए अस्पताल से भाग गए। वहीं कैमरे के सामने आने में तो कोई नहीं बोला लेकिन जीआरपी प्रभारी का कहना है कि युवक के विषय मे उनको कोई जानकारी नहीं है। उनके किसी पुलिस कर्मी ने युवक को अस्पताल में भर्ती नहीं कराया है।लेकिन अज्ञात युवक का शव अस्पताल में पड़ा संवेदनहीनता को उजागर कर रहा है।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story