Top

धर्म परिवर्तन कर निकाह करना पड़ा महंगा, पुलिस कस्टडी में भी पीटा

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 17 Jan 2018 3:01 PM GMT

धर्म परिवर्तन कर निकाह करना पड़ा महंगा, पुलिस कस्टडी में भी पीटा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सहारनपुर : एक युवक को दूसरे समुदाय की युवती से धर्म परिवर्तन कर शादी करना महंगा पड़ गया। लड़की पक्ष ने पहले धोखे से लड़की को अपने कब्जे में कर लिया और फिर युवक को लड़की से मिलाने के बहाने बुला युवक की जबरदस्त धुनाई कर डाली। थाना सदर बाजार पुलिस युवक और तीन हमला आरोपियों को थाने ले आई।

ये भी देखें :जेल के अंदर कैदी की मौत, एक माह में दूसरा मामला ,जांच अभी चल रही

थाना सदर बाजार के पंतनगर निवासी राहुल का मोहल्ला छिपीयान में दूसरे समुदाय की युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। बताया जाता है कि 3 माह पूर्व दोनों घर से फरार हो गए। लड़की पक्ष ने आरोपी के खिलाफ नगर कोतवाली में रिपोर्ट भी दर्ज करा दी। प्रेमी युगल हाईकोर्ट पहुंच गया और निकाह कर अपनी शादी रजिस्टर्ड करा दी। हाईकोर्ट ने पुलिस को दोनों की सुरक्षा के आदेश भी दिए।

बताया जाता है कि इसके बाद युवक-युवती अपने अपने घर वापस लौट गए, जिसके बाद लड़की पक्ष ने इज्जत का वास्ता देकर घर से लड़की को रुखसत करने को कहा। इस युवक तैयार हो गया। राहुल का आरोप है कि इसके बाद लड़की पक्ष ने लड़की को अपने कब्जे में कर लिया और दोबारा उससे मिलने भी नहीं दिया गया।

बुधवार दोपहर राहुल ने फोन पर लड़की के भाई से बात कराने को कहा तो लड़की के भाई ने मिलाने के बहाने कोर्ट रोड पर बुलवा लिया, जहां वह अपने एक दोस्त को बुर्का ओढा कर लाया था। राहुल ने उसे ही अपनी पत्नी समझा और जब उससे बात करने उसके पास गया तो लड़की के भाई ने अपने दो दोस्तों के साथ मिलकर उस पर हमला बोल दिया। तीनों जब राहुल को बुरी तरह पीट रहे थे उसी समय थाना सदर बाजार इंचार्ज ज्ञानेंद्र सिंह उधर से निकले। पुलिस चारों को जीप में डाल थाने ले आई। जिसके बाद दोनों में समझौता के प्रयास शुरू हो गए।

थाना प्रभारी ज्ञानेंद्र सिंह का कहना है कि यदि दोनों पक्षों में समझौता नहीं होता तो कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस कस्टडी में भी पीटा

तीनों हमलारोपी इतने गुस्से में थे कि जब उन्हें राहुल सहित पुलिस थाने पर उठा लाई और उन्हें कार्यालय में बिठाया गया तो पुलिस कर्मियों के सामने ही राहुल को तीनों ने फिर पीटना शुरु कर दिया। जिसके बाद कार्यालय में मौजूद पुलिसकर्मियों ने तीनों की अच्छी खैर-खबर ली और उन्हें हवालात में डाल दिया गया। वही पिटाई से घायल राहुल को रात मे ही उपचार के लिए जिला अस्पताल में ले जाया गया था।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story