Top

पुलिस मुठभेड़ में दो इनामी बदमाश डैनी और सरवर ढेर, 5 पुलिसकर्मी घायल

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 29 July 2017 10:13 AM GMT

पुलिस मुठभेड़ में दो इनामी बदमाश डैनी और सरवर ढेर, 5 पुलिसकर्मी घायल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: यूपी में अपराधियों पर लगाम कसने की कोशिशों में जुटी यूपी पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। आज़मगढ़, मुज़फ्फरनगर, सहारनपुर और नोएडा में अपराधियों और पुलिस की मुठभेड़ में कई पुलिस कर्मियों के ज़ख़्मी होने के बाद शामली पुलिस ने इनामी बदमाश नौशाद उर्फ़ डैनी और सरवर मार गिराया है। नौशाद के खिलाफ 14 मुक़दमे जबकि सरवर के खिलाफ आठ मुक़दमे दर्ज थे, पुलिस अफसर इसे बड़ी कामयाबी बता रहे हैं।

ये भी देखें:राजनीतिक अवसरवादिता! अखिलेश पहले ही मांग चुके थे बुक्कल नवाब से इस्तीफा

शामली पुलिस ने भूरा गाँव कैराना में इनामी बदमाश नौशाद उर्फ़ डैनी और सरवर को मार गिराया है। डैनी के खिलाफ शामली और करनाल हरियाणा में 14 मुक़दमे दर्ज हैं। यूपी पुलिस ने नौशाद पर 50 हज़ार का इनाम, जबकि हरियाणा सरकार ने 10 हज़ार का ईनाम घोषित किया था। मारे गए दूसरे बदमाश सरवर के खिलाफ 12 हज़ार का इनाम था, उस के खिलाफ मुज़फ्फरनगर और शामली के विभिन्न थानों में आठ मुक़दमे दर्ज थे।

ये भी देखें:शाह का डबल पॉलिटिकल अटैक: बबुआ के बाद अब बुआ को झटका, MLC जयवीर का इस्तीफा

पुलिस अधीक्षक शामली अजय पाल ने बताया है, कि यह बदमाश बड़ी घटना को अंजाम देने की कोशिश में थे। तभी पुलिस मुठभेड़ में दोनों मारे गए हैं। उन्होंने बताया कि नौशाद का एक साथी करनाल का रहने वाला है, जिसकी तलाश हरियाणा पुलिस तिहरे हत्याकाण्ड में कर रही हैं। उन्होंने कहा शामली पुलिस हरियाणा पुलिस के संपर्क में है, ताकि नौशाद के बारे और जानकारी हासिल की जा सके।

ये भी देखें:भारत तीसरा सबसे बड़ा बीफ निर्यातक, पिछले वर्ष 15.6 लाख टन का निर्यात

हाल के दिनों में हुई पुलिस मुठभेड़

आज़मगढ़ में 27 जून को पुलिस और बदमाशों की मुठभेड़ में एडिशनल एसपी समेत 3 जवान ज़ख़्मी एसपी अजय साहनी बाल-बाल बचे, एक बदमाश पकड़ा गया।

कासना नोएडा में 4 जुलाई को पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ में अनिल दुजाना गैंग का अनिल भाटी और तोता गिरफ्तार, दो जवान जख्मी।

सहारनपुर में 7 जुलाई को पुलिस मुठभेड़ में नदीम और मोबीन को लगी गोली, 2 जवान ज़ख़्मी।

14 जुलाई को मुज़फ्फरनगर में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, 3 बदमाश पकडे गए, 2 पुलिस के जवान ज़ख़्मी।

23 जुलाई को अगवानपुर मुरादाबाद में पुलिस मुठभेड़ में 2 बदमाश गिरफ्तार, 1 पुलिस का जवान ज़ख़्मी।

शमशाबाद आगरा में 5 अप्रैल को बदमाशों ने एसओजी में तैनात अजय यादव को बनाया निशाना।

8 अप्रैल को बदमाशों ने राजकुमार को गोलियों से भूना।

फ़िरोज़ाबाद में सिपाही रवि कुमार रावत को ट्रेक्टर से कुचल कर मार डाला।

अलीगढ में आरक्षी खज़ाना सिंह को हाइवे पर कुचल कर मौत की नींद सुलाया।

आगरा में पुलिस कांस्टेबल की हत्या

देखें तस्वीरें:

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story