Top

वीडियो में देखिए सीएम साहब! छेड़खानी का विरोध करने पर फोड़ दिया युवती का सिर

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 20 Dec 2016 10:37 PM GMT

वीडियो में देखिए सीएम साहब! छेड़खानी का विरोध करने पर फोड़ दिया युवती का सिर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मैनपुरी : यूपी के सीएम अखिलेश यादव महिला सुरक्षा को लेकर आये दिन बयान देते रहते हैं,उनकी सरकार भी काफी काम कर रही है। लेकिन समाजवादी गढ़ में ही उनकी कोई नहीं सुनता। मनचले इतने मनबढ़ हो चुके हैं कि विरोध करने पर खून बहाने से भी पीछे नहीं हटते। घटना मैनपुरी की है, जहाँ एक महिला के साथ पहले मनचलों ने दुर्व्‍यवहार किया और जब उसने विरोध किया तो डंडे से उनका सिर लहुलुहान कर दिया।

मिली जानकारी के मुताबिक पान की एक दुकान पर महिला ने पता पूछा तो वहां पहले से खड़े मनचलों ने उसके साथ छेड़छाड़ की जब उसने और उसके पति ने इसका विरोध किया तो बदमाशों ने उन्हें लाठी और डंडों से जमकर पीटा। महिला का सिर फट गया। हैरत की बात ये थी कि वहां भीड़ तो बहुत लगी थी लेकिन किसी ने इनको बचाने का प्रयास नहीं किया।

पीड़ित युवती ने बताया कि उसके साथ छेड़खानी और मारपीट की गई। लाठियों से बीच सड़क पर दौड़ा कर पीटा गया। जबतक पुलिस वहां पहुंची आरोपी भाग चुके थे।

मारपीट का वीडियो सोशल साइट्स पर वायरल होने के बाद ही पुलिस हरकत में आई और अब मामला दर्ज कर तीन आरोपियों की तलाश कर रही है।

अगली स्लाइड में देखिये वीडियो

FLAME MEDIA के सौजन्य से:-

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=A7Z__lrzPxs[/embed]

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story