×

पढि़ए, साध्वी की वो चिट्ठी जिसके बाद राम रहीम पर कसा शिकंजा

Gagan D Mishra

Gagan D MishraBy Gagan D Mishra

Published on 25 Aug 2017 1:39 PM GMT

पढि़ए, साध्वी की वो चिट्ठी जिसके बाद राम रहीम पर कसा शिकंजा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: साध्वियों से रेप के मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दोषी ठहराया है। बाबा को जिस रेप के मामले में सजा सुनाई गई है वह 2002 की है। इस घटना का उसी साल उस समय खुलासा हुआ था जब एक साध्वी ने तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को चिट्ठी लिखकर जुलाई,2002 में अपने साथ हुई घटना की जानकारी थी। साध्वी ने बाबा के अन्य कारनामों का भी जिक्र किया था। इस चिट्टी की कॉपी पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट को भी भेजी गयी थी। बाद में इस चिट्ठी के आधार पर मामले की सीबीआई जांच शुरू हुई थी।

चिट्ठी में साध्वी ने लिखा है कि मैं पंजाब की रहने वाली हूं और पांच साल से सिरसा में डेरा में सेवा कर रही हूं। मैं और सैकड़ों लड़कियां यहां 16-17 घंटे काम करती हैं। यहां हमारा शारीरिक शोषण किया जा रहा है और हमारा रेप गुरमीत राम रहीम कर रहा है। मैं बीए पास हूं और मेरे परिवार के लोग गुरमीत महाराज के अंध भक्त हैं। उन्हीं के कहने पर मैं साधु बनीं। साधु बनने के बाद एक दिन गुरमीत की एक भक्त ने मुझसे कहा कि महाराज मुझे अपने कमरे में बुला रहे हैं।

कमरे में बाबा देख रहे थे ब्लू फिल्म

मैं सिर नीचा करके बाबा के कमरे में चली गई। उन्होंने बिस्तर के एक तरफ बैठने का इशारा किया। मुझे बहुत संकोच हो रहा था। पहले कभी बाबा के सामने इस तरह पेश नहीं हुई थी। वो भी रात का वक्त। बाबा के प्रति पूरी श्रद्धा होते हुए भी मन में अजीब सी आशंकाएं उमड़-घुमड़ रहीं थीं। आखिर महिला जो मैं ठहरी। जब मेरी नजर कमरे में चल रही टीवी पर पड़ी तो बड़ा झटका लगा। पैरों तले जमीन खिसक गई। जिसे प्रभु का अवतार मानकर श्रद्धा में सिर झुकाती चली आई, वह बाबाजी गंदी फिल्म चलाए बैठे थे। मेरी तरफ कुटिल मुस्कान फेरकर बाबा ने कुछ यूं इशारा किया कि मेरी नजर बिस्तर पर रखे रिवॉल्वर पर पड़ गई। मैं डरने लगी। अचानक बाबा ने मुझे मेरी मर्जी के विपरीत पकड़ लिया। अश्लील हरकतें करने लगे। उन्होंने कहा कि साधु बनने के बाद तुम्हारा तन हमारा है। मैंने चिल्लाने की कोशिश की तो मुंह दबा दिया और कहा कि सरकार और मंत्री सब हमारे सेवक हैं। रिवाल्वर दिखाकर मुझे व घर वालों को जान से मारने की धमकी दी। पूरी रात गुरमीत राम रहीम ने रेप किया। एक बार बाबा राम रहीम रेप करने में सफल रहे तो फिर कई बार सिलसिला चला।

कई और लड़कियों के साथ भी हुआ रेप

यहां सभी लड़कियों के साथ ये हो रहा था। लडक़ी ने लिखा है कि मुझे पता चला कि जितनी लड़कियां यहां रहती हैं वे भी महाराज का शिकार हो चुकी हैं। हम दिखाने के लिए साध्वी हैं, लेकिन हालत वेश्या जैसी है। कुछ समय पहले जब एक साध्वी ने अपने भाई से घटना के बारे में बताया तो वो उसे यहां से ले गया। वहीं जब एक साध्वी ने महाराज की करतूतों का खुलासा किया तो बाबा के हथियारबंद गुंडों ने उसे घर में बंदकर जान से मारने की धमकी दी। इस लडक़ी ने काफी तफसील से लिखी इस चिट्ठी में कहा है कि मैं अपना नाम लिखूंगी तो मुझे और मेरे परिवार को मार दिया जाएगा। चिट्ठी लडक़ी ने अपनी और दूसरी साध्वियों की मेडिकल जांच की मांग की है। इस चिट्ठी को प्रधानमंत्री के साथ हरियाणा सीएम को भी भेजा गया। कई अखबारों को भी इसे भेजा गया। इसे 30 मई को पूरा सच नामक अखबार ने छापा था तो मामला चर्चा में आया था। चिट्ठी लिखने के बाद साध्वी ने डेरा छोड़ दिया था। इसी मामले की जांच में गुरमीत राम रहीम को दोषी पाया गया है।

Gagan D Mishra

Gagan D Mishra

Next Story