Top

कानपुर के चाइनामैन कुलदीप ने डेब्‍यू मैच में झटके 4 विकेट, परिवार में ख़ुशी का माहौल

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 25 March 2017 3:26 PM GMT

कानपुर के चाइनामैन कुलदीप ने डेब्‍यू मैच में झटके 4 विकेट, परिवार में ख़ुशी का माहौल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर : कानपुर के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को लंबे इंतजार के बाद टीम इंडिया में खेलने का मौका मिला। भारत-आस्ट्रेलिया के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के चौथे मैच में कुलदीप ने टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया। जिससे उनके परिजनों में काफी खुशी है। उनके मोबाइल पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ हैं।

वहीँ कुलदीप के परिजनों को यकीन है कि वह इस मिले मौके को भुनाने में कोई कसर नही छोडेगा। आपको बता दें कि कुलदीप का पहले भी टीम इन्डिया में चयन हुआ था । लेकिन टीम की तरफ से खेलने का मौका नही मिला था । कुलदीप को उसके अनोखे अंदाज से गेंदबाजी के लिए जाना जाता है । आज मैच में बॉलिंग करते हुए कुलदीप ने डेविड वार्नर का विकेट लिया। जिसके बाद परिजनों ने एक दूसरे को मिठाई खिला कर अपनी ख़ुशी का इजहार किया।

ये भी देखें : योगी के मंत्री भी अब एक्शन में, अस्पताल का औचक निरीक्षण, आरोपियों को किया सस्पेंड

कुलदीप की माँ उषा यादव अपने बेटे के लिए भगवान से प्रार्थना कर रही है की वो इस मैच में अच्छा प्रदर्शन करे। कम से कम 5 से 6 विकेट मिले, उन्होंने कहा आज मुझे बहुत ख़ुशी मिली है की उसको मौका मिला है। बड़ी बहन मधु यादव का कहना कि कुलदीप मैच खेल रहा बहुत अच्छा लग रहा है। इस दिन का सबको इंतजार था, इससे पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ वन डे में भी उसका सलेक्शन हुआ था लेकिन खेलने का मौका नही मिला था ।वंही कुलदीप के पिता राम सिंह यादव पेशे से ईट भट्टा के मालिक है, और उनका सपना था कि उनका बेटा क्रिकेट की दुनिया में नाम कमाए। आज कुलदीप मैच खेल रहा है तो उनके पिता राम सिंह यादव अपना सारा काम छोड़ कर घर में मैच देख रहे है, उनका कहना है की कुलदीप के खेल से बढ़ कर उनके लिए कुछ नही।

अगली स्लाइड में देखें तस्वीरें

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story