Top

कुमाइट वन फाइट लीग: खेल जगत में एक नई शुरुआत

भारत में खेल ने बहुत लोकप्रियता हासिल की है और इसीलिए अब इस क्षेत्र में नई प्रतिभाओं को पहचानने और हौसला देने के लिए 'टोयम इंडस्ट्रीज लिमिटेड'

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 17 Oct 2017 6:17 AM GMT

कुमाइट वन फाइट लीग: खेल जगत में एक नई शुरुआत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: भारत में खेल ने बहुत लोकप्रियता हासिल की है और इसीलिए अब इस क्षेत्र में नई प्रतिभाओं को पहचानने और हौसला देने के लिए 'टोयम इंडस्ट्रीज लिमिटेड' ने एक कदम आगे बढ़ाया है। यह वो कंपनी है जिसे बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ने अपने लिस्ट में शामिल किया था।

कंपनी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, मोहम्मद अली बुधवानी ने बताया, "पिछले 10 सालों में खेल एक उद्योग के रूप में मूल रूप से बदल गया है। खेल आज के दौर में किसी कॉर्पोरेट निवेश के लिए मार्केटिंग और ब्रांडिंग अवसर पैदा का सिर्फ एक सक्रिय मंच नहीं रहा बल्कि अब यह दुनिया भर में प्रशंसकों के लिए काफी मायने भी रखता है।"

भारतीयों ने क्रिकेट, फुटबॉल, हॉकी और कबड्डी भी गले लगाए हैं, लेकिन उस खेल के बारे में क्या जिसकी शुरुआत असलियत में भारत से ही हुई थी, जिसे हम फाइटिंग कहते है?

तो तैयार हो जाइये इस रोमांचकारी खेल के लिए क्योंकि दुनिया भर के अन्य देशों साथ इस खेल ने अब भारत में अपना रास्ता खोज लिया है। टोयाम प्रस्तुत कर रहे है, कुमाइट वन फाइट लीग (K1L), जो एक तादात के साथ एक एक्शन-पैक्ड गेम लीग होने का वादा करता है, और निश्चित रूप से खेल में यह अगली बड़ी बात हो सकती है।

कुमाइट एक जापानी शब्द है जिसका मतलब होता है लड़ाई। K1L आपको बहुत उत्तेजित करने वाले सीनारिओं के तहत आपके सामने लड़ाईयों को पेश करेगा, जिनमे है:

- मृत्यु का तालाब

- मृत्यु का पिंजरा

- नरक वाली रेलगाड़ी

- नुकीला अखाडा

- हवाई यद्ध क्षेत्र

- बिछा जाल

इन मैचों में 7 लड़ाकू होंगे, जिनमे 5 पुरुष और 2 महिला लड़ाकुओं का समावेश होगा, जिसमें से छह टीमों में से प्रत्येक में 3 बैकअप होंगे। 3 राउंड के लिए भारतीय और अंतराष्ट्रीय लड़ाकुओं में से चुने गए हर लड़ाकुओं को एक षट्भुज आकार की रिंग में खेलना होगा। एक खिलाड़ी 3 मिनट के अंदर अपनी ताकत साबित कर सकता है, जो प्रत्येक गोल के लिए प्रदान किया जाएगा, साथ ही मैच दोबारा शुरू होने से पहले खुद को तरो-ताज़ा करने के लिए 2 मिनट का ब्रेक ले सकता है।

भारत के अलावा, यह मैच दुबई, बीजिंग, लास वेगास और पेरिस में आयोजित किया जाएगा, यानि वास्तविक अर्थों में अगर कहा जाये तो इसे अंतरराष्ट्रीय कहा जायेगा।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story