Top

पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, वर्ल्ड टूर फाइनल्स जीतने वाली बनीं पहली भारतीय

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 16 Dec 2018 3:37 PM GMT

पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, वर्ल्ड टूर फाइनल्स जीतने वाली बनीं पहली भारतीय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने रविवार को इतिहास रच दिया। सिंधु ने 2017 की विश्व चैंपियन नोजोमी ओकुहारा को विश्व टूर फाइनल्स BWF World Tour Finals 2018 के खिताबी मुकाबले में हरा दिया। इसके साथ ही स्वर्ण पदक जीतने में सफल रहीं। लगातार सात फाइनल हारने के बाद सिंधु ने यहां खिताबी जीत दर्ज की है। इस बड़े खिताब को जीतने वाली पीवी सिंधु पहली भारतीय हैं। उन्होंने सीधे गेम में ओकुहारा को 21-19, 21-17 से हराया।

यह भी पढ़ें.....रिटायरमेंट पर पीएम मोदी ने गौतम गंभीर को लिखा पत्र, यहां पढ़ें पूरा लेटर

ऐसा करने वाली बनीं पहली भारतीय

पीवी सिंधू से पहले और कोई भारतीय ये कारनामा नहीं कर सका। लगातार दूसरे साल टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची सिंधु ने कोई गलती नहीं की और ओकुहारा से पिछले साल वर्ल्ड चैंपियनशिप के फाइनल में मिली हार का हिसाब चुकता कर लिया। रियो ओलंपिक की सिल्वर मेडल विजेता का यह पहला वर्ल्ड टूर फाइनल खिताब है।

यह भी पढ़ें.....दुर्लभ बीमारी से पीड़ित इस बेटी ने CM योगी से लगाई मदद की गुहार

मैच में किया शानदार प्रदर्शन

मैच में 23 वर्षीय सिंधू ने शानदार शुरुआत करते हुए पहले गेम में अच्छा प्रदर्शन किया। पहले गेम में ब्रेक में उन्होंने 11-6 की बढ़त हासिल कर ली थी। लेकिन ब्रेक के बाद जापानी खिलाड़ी ओकुहारा ने शानदार वापसी करते हुए स्कोर को एक समय 15-13 तक ले आईं। ऐसे में सिंधू के लिए परेशानियां बढ़ती दिख रही थीं। इसके बाद स्कोर 17-17 हो गया। लेकिन सिंधू ने पेशेंस दिखाते हुए मैच में अपनी पकड़ बरकरार रखी, लेकिन अकुहारा भी मैच में जी जान लगा रहा थीं। उन्होंने स्कोर को 20-19 तक पहुंचा दिया। लेकिन अंत में बाजी सिंधू के ही हाथ लगी और उन्होंने 21-19 से पहले गेम अपने नाम कर 1-0 की बढ़त बना ली।

यह भी पढ़ें.....राफेल डील की जेपीसी जांच से जेटली का इंकार, बोले- फैसले पर कांग्रेस कर रही दुष्‍प्रचार

दूसरे गेम में भी सिंधू ने शानदार शुरुआत करते हुए 2-0 की शुरुआत बढ़त बना ली। लेकिन दोनों के बीच एक एक अंक के लिए कड़ा मुकाबला हुआ। दोनों ने आसानी से प्वाइंट्स नहीं दिए। दूसरे गेम के ब्रेक तक सिंधू ने 11-9 की बढ़त बना ली थी। ब्रेक के बाद भी सिंधू ने अपना शानदार खेल जारी रखा। लेकिन अंत में उन्होंने दूसरा गेम भी 21-17 से अपने नाम कर लिया।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story