astro

माह-,पौष पक्ष-शुक्ल वार-शुक्रवार, तिथि-अष्टमी  नक्षत्र-रेवती ,सूर्योदय- 07.18 ,सूर्यास्त: 17.32। आज शुक्रवार है। आज के दिन मां लक्ष्मी की पूजा करें। कन्याओं को दान दें।

शुक्ल पक्ष तिथि: सप्तमी नक्षत्र : उत्तर भाद्रपद – राहुकाल : 13:42 - 14:59वार – गुरूवार,,माह – पौष,सूर्योदय –  07:15,सूर्यास्त – 17:37।आज  बृहस्पतिवार है और  आज के दिन केले के पेड़ में जल चढ़ाएं और पीलावस्त्र पहनें।

साल 2020 की शुरुआत बुधवार से हो रही है। कहने का मतलब कि 1 जनवरी इस साल बुधवार के दिन पड़ता है जो भगवान गणेश का दिन है। ये हमें बुद्धि व बल देते हैं। तो जानते हैं कि कर्क, सिंह व कन्या में किसके लिए आने वाला साल सेहत, प्यार व रोजगार के लिए बढ़िया रहेगा।

जयपुर:माह – पौष,तिथि – द्वितीया ,पक्ष – शुक्ल, वार – शनिवार,नक्षत्र – उत्तराषाढ़ा ,सूर्योदय-7.12, सूर्यास्त-17.32, चौघड़िया शुभ-8.33-9.50,चर-12.23 से 13.39, लाभ-13.39 से 14.55, अमृत-14.55 से.16.12।

माह-पौष  पक्ष कृष्ण, वार- बृहस्पतिवार, तिथि-अमावस्या, नक्षत्र- ज्योष्ठा, सूर्योदय-6.21, सूर्यास्त-17.57।ग्रहण आरंभ-8.13 से सुबह , ग्रहण मध्य-9.17 और ग्रहण समाप्ति-10.56।

जयपुर:तिथि सप्तमी, दिन- बुधवार, नक्षत्र- पक्ष- कृष्ण, माह-पौष, सूर्योदय- 07.11, सूर्यास्त- 17.22। बुधवार के दिन गणेश पूजा करें और हरी वस्तुओं को दान दें।

इस साल खरमास 16 दिसंबर से लग रहा है। साल में दो बार जब सूर्य, गुरु की राशि धनु व मीन में संक्रमण करता है, उस समय को खर, मल व पुरुषोत्तम मास कहते हैं। इस दौरान कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता। खर मास आगामी 14 दिसम्बर से शुरू हो रहा है। शास्त्रों में बताया गया है कि सूर्य जबतक गुरू की राशि मीन अथवा धनु में होता हैं

दिन की शुरुआत चाहते हैं शुभ और सफलतादायक हो तो बिस्तर से उठते ही अपने दोनों हाथों को आपस में रगड़ कर चेहरे पर लगाएं। बिस्तर से उठते ही अपने दोनों हाथों को आपस में रगड़ कर चेहरे पर लगाएं और दिए गए 3 मंत्रों में से किसी भी 1 मंत्र को हर दिन बोलें।

आर्थिक विषयों का आयोजन होगा। माता की तरफ से अधिक प्रेम और भावनाओं का अनुभव होगा। स्त्रियों को सौंदर्य प्रसाधन, वस्त्र या आभूषणों की खरीदी के पीछे खर्च होगा। विद्यार्थियों को पढ़ाई में सफलता मिलेगी। स्वभाव में जिद्दीपन रहेगा।

किसी भी चीज और काम में मन नहीं लगता है तो परेशान ना हो, धन से जुड़ी अगर ऐसी ही समस्या किसी के साथ भी हो सकती है। अगर आपके साथ भी होती है, तो शुक्रवार के दिन कुछ उपाय करके मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त कर सकते हैं...