cricketer

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में विराट कोहली और रोहित शर्मा की टीम से सदस्य रह चुके 33 साल के सी गौतम को पुलिस ने कर्नाटक प्रीमियर लीग (KPL) में फिक्सिंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

धोनी ने दिल्ली में कहा कि वह भी आम इंसान की तरह ही सोचते हैं, लेकिन बस नकारात्मक विचारों पर काबू रखने के मामले में वह किसी अन्य की तुलना में बेहतर हैं।  अपने शांत स्वभाव के कारण ही उन्हें भारतीय क्रिकेट में ‘कैप्टन कूल’ कहा जाता है।

कप्तान कोहली की नाबाद अर्धशतकीय पारी की बदौलत टी-20 अंतर्राष्ट्रीय में उनका बल्लेबाजी एवरेज 50 के पार चला गया, अर्थात अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में इस समय उनकी औसत 50 से ज्यादा की हो गई है।

म्हारी छोरियां छोरों से कम हैं के', लड़कियां कुछ भी कर सकती है, लड़कियां भी पहाड़ फतह कर सकती है! उम्र तो महज एक आकड़ा है, काबिलीयत के लिए हौसलों की उड़ान जरूरी है। ठीक इसी तरह के बातों को सच साबित कर रही हैं शेफाली वर्मा...

शादी के बाद हर किसी की संतान की इच्छा होती है। हालांकि कुछ लोग शादी के एक दो साल में ही माता-पिता बन जाते हैं, तो कोई कुछ सालों के बाद बनता है। हम उन 5 भारतीय क्रिकेटर के बारे में बात करेंगे जो शादी के कई साल बाद भी निसंतान हैं।

सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर ने लोकसभा चुनाव में सिद्धू को टिकट न मिलने पर कैप्टन के खिलाफ खुलकर नाराजगी जताई थी। इसका सिद्धू ने भी समर्थन किया था। इसके बाद कैप्टेन ने भी सिद्धू पर वार किया।

भारतीय क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग की पत्नी आरती सहवाग के साथ धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। आरती सहवाग ने दिल्ली की आर्थिक अपराध शाखा में अपने साथ हुई धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज करवाई है।

क्रिकेट मैच के दौरान एक देश से दूसरे देश मैच खेलने गए खिलाड़ियों को देखकर यही महसूस होता है कि प्यार किसी सरहद का मोहताज नहीं होता है। प्यार को लेकर बहुत ही कहावते कही जाती हैं, जैसें प्यार अंधा होता है। प्यार की जात-पात नहीं होती। प्यार में उम्र नहीं देखी जाती और भी बहुत कुछ।

पहले के जमाने लोग अपने प्यार का इजहार करने के लिए माध्यमों की खोज करते थें, परन्तु अब सोशल मीडिया एक ऐसा जरिया है जिसके द्वारा एक आम इंसान से लेकर बड़ें-बड़ें सेलिब्रिटीज अपने दिल की बात कहते हैं। ऐसें में देखें आलिया भट्ट की कौन है वो दोस्त, जिसने किया प्यार का इजहार...

इस ट्रॉफी में टॉस जीतकर बिहार ने बल्लेबाजी करते हुए 357 रन बने, जिसमे धोनी ने 12 चौकों और दो छक्कों की मदद से सर्वाधिक 84 रन बनाए थे। धोनी ने इस टूर्नामेंट में 9 मैचों में 488 रन बनाए थे और इस टूर्नामेंट के बाद उनको पहली श्रेणी में खेलने का मौका मिला था