defence budget

लद्दाख सीमा पर तेजी से बढ़ रहे तनाव को देखते हुए देश की मोदी सरकार ने सैन्य ताकत को और तंदरूस्त करने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाया है।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट सदन में पेश कर दिया है। इस बजट में मध्‍यम समेत हर वर्ग के लिए कई खास ऐलान किए गए हैं। बजट 2020 में रक्षा बजट में 6 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई। यह अब 3.37 लाख करोड़ हो गया है।

चीन अपने रक्षा बजट में लगातार बढ़ोत्तरी करता जा रहा है। चीन ने साल 2019 के लिए अपने रक्षा बजट में 7.5 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की है।चीन के नेशनल पीपल्स कांग्रेस (एनपीसी) के सालाना सत्र की मंगलवार को शुरुआत हुई जिसमें पेश ड्राफ्ट बजट रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

कार्यवाहक वित्‍त मंत्री पीयूष गोयल ने चुनाव से पहले अंतरिम बजट पेश किया। मोदी सरकार का यह आखिरी बजट है। अंतरिम बजट 2019 में रक्षा बजट के लिए भी कई बड़े ऐलान किए गए हैं। सरकार ने पहली बार रक्षा बजट को बढ़ाकर 3 लाख करोड़ रुपये कर दिया है।

चीन ने सोमवार को अपने प्रतिरक्षा खर्च में बढ़ोतरी करते हुए रक्षा बजट को पड़ोसी देश भारत से तीन गुना बड़ा रखा है। देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 8.1 फीसदी कर दिया है, साथ ही वर्ष 2018 में चीन ने 6.5 फीसदी आर्थिक विकास का लक्ष्य रखा है। चीन का रक्षा बजट 2017 में देश के जीडीपी का सात फीसदी था और यह 2013 से ही एकल अंक में है, लेकिन पिछले तीन

नई दिल्ली: वित्त मंत्री ने गुरुवार को संसद में पेश 2018-19 के आम बजट को हालांकि संतुलित रखा लेकिन रक्षा बजट को ज्यादा नहीं बढ़ाया। वित्‍त मंत्री ने बजट में रक्षा खर्च में इजाफा तो किया है, लेकिन चीन के साथ डोकलाम विवाद के बाद इसके और बढ़ने की उम्‍मीद थी। लेकिन आपको यह जानकर …