Hathras Gang Rape

हाथरस के चंदपा इलाके के बुलगढ़ी गांव में 14 सितंबर को 19 साल की दलित लड़की से गैंगरेप का मामला सामने आया था। आरोपियों ने लड़की की रीढ़ की हड्डी तोड़ दी थी

एसआईटी की जांच में सामने आया है कि 16 सितंबर से लेकर 22 सितंबर तक हाथरस पीड़िता के घर में संदिग्ध नक्सली महिला भाभी बनकर रह रही थी।

प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि हाथरस की घटना के बाद से ही आम आदमी पार्टी पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए मुखर है।

निर्भया की वकील ने देश में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि देश का मौजूदा माहौल ऐसा हो गया है कि महिलाओं की सुरक्षा खतरे में पड़ गई है।

अभी उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुए गैंगरपे की घटना से देश भर में आक्रोश देखने को मिल रहा है। वही अब महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले के गोंडपिपरी तहसील के एक गांव में रिश्ते को कलंकित करने वाली घटना शुक्रवार की रात घटी।

सरकार को जवाब देना पड़ेगा कि अगर कुछ नहीं हुआ है तो उस खेत में क्या हुआ था। इलाज के लिए तड़पती रही बेटी को न्याय देने की इच्छा सरकार में क्यों नहीं जगी। सरकार की संवेदना कहां थी मुख्यमंत्री के कलेजे में जरा भी दर्द नहीं हुआ। पीड़ित परिवार न्याय की गुहार करते रहे।

मीडिया से बातचीत में पीड़िता की भाभी ने बताया ‘कल यहां कोई एसआईटी की टीम नहीं आई थी। परसों पूछताछ हुई थी। डीएम साहब बोलते थे कि तुम्हारी बेटी अगर कोरोना से मर जाती तो क्या कर लेते।

हाथरस कांड को लेकर विपक्ष की ओर से किए जा रहे हमलों के बीच आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जोरदार जवाब देते हुए कहा कि गुनाहगारों को ऐसा दंड दिया जाएगा जो भविष्य का उदाहरण बनेगा।

बाराबंकी जनपद मुख्यालय के बाल्मीकि मंदिर में आज कांग्रेसियों का जमावड़ा दिखाई दिया। मौन व्रत पर बैठे कांग्रेस कर्ताओं का नेतृत्व प्रदेश प्रवक्ता तनुज पुनिया और कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष वीरेंद्र चौधरी ने किया।

आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने गुरुवार को प्रेसवार्ता में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। उनको तुरंत अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।