iran

ईरानी कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ा तनाव कम होता नहीं दिखाई दे रहा है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के परमाणु शक्ति नहीं बनने देने की धमकी पर ईरान ने एक बार फिर से पलटवार किया है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ईरान के खिलाफ दंडात्मक आर्थिक प्रतिबन्ध लगाने की बात कही है। ये प्रतिबन्ध क्या होंगे ये अभी स्पष्ट नहीं है।

ईरानी जनरल कमांडर कासिम सुलेमानी को हमले में मार गिराने के बाद अमेरिका और ईरान में हाल के दिनों में तनाव काफी बढ़ गया था। लेकिन अब अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के बयान के बाद दोनों देशों के बीच तनाव कम होने की संभावना है।

अमेरिका और ईरान में जंग की आशंका के बीच इराक में अमेरिकी सेना के ठिकानों पर बुधवार को हमला हुआ था। जिसमें ईरान की तरफ से अमेरिका के 80 से ज्यादा सैनिकों को मार गिराने का दावा किया गया था।

ईरान और अमेरिका के बीच पिछले लंबे समय से बने तल्ख रिश्तों के बाद अब दोनों के बीच युद्ध की स्थिति बनती दिख रही है। ईरान के लिए आज बुधवार का दिन बेहद चर्चा वाला रहा।

अमेरिकी हमले में ईरानी कमांडर कासिम सुलेमानी की मौत के बाद पूरे मध्य पूर्व में युद्ध का खतरा मंडरा रहा है। ईरान ने बदले की कार्रवाई की है और अमेरिकी सैन्य ठिकाने पर हमला किया है। ईरान ने अमेरिकी सैन्य ठिकाने पर दर्जनों मिसाइलों से हमला किया है।

जनरल कासिम सुलेमानी की हत्‍या के बाद ईरान ने अमेरिका के इराक स्थित सैन्‍य ठिकानों पर 20 से ज्यादा मिसाइलों से जोरदार पलटवार किया। ईरानी हमले के बाद पूरी दुनिया में खलबली मच गई है। इराक के आसमान में अमेरिकी लड़ाकू विमान चक्‍कर लगाने लगे।

अमेरिकी हमले में ईरानी कमांडर कासिम सुलेमानी की मौत के बाद पूरे मध्य पूर्व में युद्ध का खतरा मंडरा रहा है। ईरान ने बदले की कार्रवाई की है और अमेरिकी सैन्य ठिकाने पर हमला किया है। ईरान ने अमेरिकी सैन्य ठिकाने पर दर्जनों मिसाइलों से हमला किया है।

तेहरान। ईरान और अमेरिका के बीच जबर्दस्त विवाद है जो मध्यपूर्व को एक और युद्ध की तरफ ले जा सकता है। इन दोनों देशों के रिश्ते कभी बहुत अच्छे हुआ करते थे। खासकर प्रथम और द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान। दोनों विश्वयुद्धों के बीच में ही मध्य पूर्व के देशों में कच्चे तेल के बड़े …