Jharkhand elections

नॉमिनेशन और एफिडेविट के विश्लेषण पर आधारित एडीआर की रिपोर्ट से साफ है कि जीत दिलवाने की गारंटी देने वाले क्रिमिनल और अमीर बैकग्राउंड के उम्मीदवार को मैदान में उतारने से किसी भी दल को न तो कोई परहेज है और न ही कोई गुरेज।

झारखंड विस चुनाव से पहले एसएसटी  ने शुक्रवार को रांची, धनबाद व पलामू में छापेमारी कर एक करोड़ 35 लाख रुपये बरामद किए।  पलामू के सतबरवा के पास वाहन जांच के दौरान एक कार से 60 लाख रुपये बरामद किए गए।

प्रियंका गांधी, झारखंड में होने वाले विधानसभा के पहले चरण के चुनाव में चुनाव प्रचार नहीं करेंगी। हालांकि, भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के खिलाफ चुनावी लड़ाई में प्रियंका जैसे लोकप्रिय चेहरे की अनुपस्थिति ने पार्टी और उसकी झारखंड इकाई के भीतर हलचल पैदा कर दी है।