latest uttar pradesh news

हमारे जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण किरदार निभाती हैं। अपनी जिम्मेदारियों में कभी बेटी, कभी पत्नी, कभी मां, कभी बहू, कभी बहन बनकर परेशानियों को दूर करती हैं। ऐसे में महिलाओं को कुछ स्पेशल अनुभव कराने के लिए अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Womens Day) 8 मार्च को मनाया जाता है।

उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले के सिलावन गांव निवासी विष्णु तिवारी को हाईकोर्ट ने 20 साल बाद बलात्कार व हरिजन एक्ट के मामले में निर्दाेष साबित किया है। अब जेल से रिहा हुए इस अकेले बचे इंसान के पास अपना कुछ भी नहीं बचा है। इन 20 सालों में विष्णु अपने दो बड़े भाइयों व मां-बाप सहित चार सदस्यों को खो चुका है।

बाराबंकी पुलिस का बहुत बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है। जिसमें एक ही शख्स को पुलिस दो जगह से पकड़ने का दावा करती नजर आ रही है। पुलिस की इस फर्जी थ्योरी का खुलासा किसी और ने नहीं बल्कि एक वायरल वीडियो ने किया है।

बेरोजगारी की इसी समस्या पर बल देते हुए कांग्रेस की तरफ अजय कुमार उर्फ लल्लू ने कहा कि सरकार ने बेरोजगारों को धोखा देने का काम किया है। कई विभागों मेें लाखों पद खाली पडे़ होने के बाद भी राज्य सरकार भर्तियां नहीं कर रही है।

पुलिस की गिरफ्त में सानिया के पिता राजेश सिंह ने जुर्म कबूल करते हुए बताया कि एक माह पहले मुझे मेरी पत्नी लड़के दीपक सिंह को पता चला की बभनौली निवासी अजय यादव के साथ सानिया का संबंध है।

शबनम ने अपने प्रेम में बाधा बन रहे अपने ही माता-पिता, भतीजे, दो भाई, एक भाभी और रिश्ते की बहन को दूध में नशीला पदार्थ देकर बेहोश होने के बाद एक-एक करके कुल्हाड़ी से मार दिया। इस कांड से पूरे गांव में आक्रोश की लौं आज भी प्रजज्विलित है।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्वनी चौबे ने एक ऐसा दावा किया है, जो देशवासियों को राहत दे सकता है. अश्वनी चौबे के मुताबिक भारत स्वदेशी पेट्रोल बनाने पर काम कर रहा है. ये स्वदेशी पेट्रोल का दाम भी कम होगा.

पर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार ने बताया कि यह छिबरामऊ के राष्ट्रीय इंटर कालेज अकबरपुर का मामला है। बीती रात्रि में एक रंजीत नामक व्यक्ति का शव मिला था जिसमे उस कालेज के चौकीदार अजय की तरफ से जो उसका चचेरा चाचा भी है।

उन्नाव जिले के एक खेत में बुआ-भतीजी और चचेरी बहन गंभीर स्थिति में पेड़ से बंधी मिली। तीनों लड़कियों के गले कसे हुए और हाथ बंधे हुए मिलने की परिवार वालों की बात को पुलिस नकार रही है। जिले का बबुरहा गांव छावनी में तब्दील हो गया है। गांव में जगह-जगह बैरियर लगा दिए गए हैं।

बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का निर्माण चल रहा है। जिसको लेकर निर्माण करा रहे ठेकेदार द्वारा छछूंद के पास वाहनों के आवागमन के लिए फफूंद रजवाह में पाइप डालकर उसे मिट्टी से पाट कर कच्ची सड़क बना दी है।