letter

यूपी की राजधानी लखनऊ में एक बीयर बार के उद्घाटन के बाद सुर्खियों में आईं मंत्री स्वाती सिंह का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि अब बीजेपी के एक पदाधिकारी ने यह कहकर सीएम योगी आदित्यनाथ की मुश्किलें बढ़ा दी हैं कि यूपी सरकार की ओर से दिए जाने वाले यश भारती पुरस्कार को जारी रखा जाए।

पिता के हत्यारों को सजा दिलाने के लिए एक बेटी ने अपने खून से सीएम आदित्यनाथ को ख़त लिखकर इंसाफ की गुहार लगाई है। जानें क्या है मामला...

मेरठ: यूपी के मेरठ में पुलिस को शुक्रवार 24 मार्च दो पत्र मिले, जिमसें दिल्ली को बम से उड़ने की धमकी दी गई है। पत्रों के मिलते ही पुलिस महकमे में हडकंप मचा हुआ है। पुलिस को प्राप्त हुए पत्रों में लिखा हुआ है कि हमारे जिहादी तीन गाडियां लेकर दिल्ली निकल चुके हैं, अगर …

पीएम मोदी के जीत की जितनी ख़ुशी प्रदेशवासियों को हुई है उतनी ही पाकिस्तान की रहने वाली 11 साल की एक बच्ची को भी हुई है। तभी तो उसने नरेंद्र मोदी को यूपी में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत

मुंबई। मशहूर कॉमेडियन और एक्टर सुनील ग्रोवर ने पीएम मोदी को लेटर लिखा है। इस लेटर में उन्होंने पीएम मोदी से अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का इंटरव्यू लेने की रिक्वेस्ट की है। यह रिक्वेस्ट अपनी आने वाली फिल्म कॉफी विद डी के प्रमोशन को देखते हुए की गई है। इस फिल्म में सुनील एक पत्रकार …

विधानसभा में नंबर दो की हैसियत रखने वाले मंत्री शिवपाल अब सिर्फ विधायक रह गए हैं। मंत्रिमंडल से बर्खास्तगी के बाद विधानसभा में सीएम के बगल वाली उनकी कुर्सी भी जाती रही। इसलिए अब उनकी चिंता यह है कि इस बार आगामी सत्र में वह कहां बैठेंगे।

गवर्नर नाईक ने मुख्य चुनाव आयुक्त को पुन: पत्र लिखा कर उमा शंकर सिंह मामले में जल्द निर्णय लेकर अवगत कराने को कहा है, ताकि विधायक की सदस्यता के बारे में अंतिम निर्णय ले सकें। गवर्नर ने पत्र में उच्च न्यायालय के चुनाव आयोग को जल्द निर्णय लेने के आदेश का भी हवाला दिया है।

नई दिल्लीः रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को लेटर लिखा है। उन्होंने लेटर में कहा है कि आर्मी को राजनीति में नहीं खिंचना चाहिए। यह एक रूटीन एक्सरसाइज थी। बता दें कि रुटीन एक्सरसाइज के लिए पश्चिम बंगाल में बीते दिनों सेना तैनात की गई थी। इस पर सीएम ममता …

ग्रामीणों ने विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करने का सामूहिक ऐलान कर दिया। ग्रामीणों ने प्रधानमंत्री, राज्यपाल और चुनाव आयुक्त को संबोधित ज्ञापन एसडीएम सदर प्रबुद्ध सिंह को सौपा है। ग्रामीणों का कहना है कि जब नेता और प्रशासन विकास नहीं दें सकते, तो हम वोट क्यों दें।

लखनऊ: आप यकीन करें, आज सुबह-सुबह पूज्य पिताजी का चिर-परिचित स्वर फिर कानों में गूंज गया-‘बच्चन आज इतने वर्ष के हो गए, मैं 27 जनवरी को इतने वर्षों का हो जाऊंगा।…’ पिछले दिनों मेरे कागजों में बच्चनजी का एक मज़ेदार पत्र मिला है। यह ख़त मेरे नाम है। इस पर कोई तिथि तो दर्ज नहीं …