model code of conduct

आरोप है कि विधायक नवाब जान ने मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए अपने घर पर एक सभा करके करीब 200 लोगों को आसरा आवास योजना के आवंटन पत्र बांटे। नवाब जान ठाकुरद्वारा विधान सभा सीट से विधायक हैं और अखिलेश गुट ने इन्हें यहां से सपा का उम्मीदवार घोषित किया है।

आरोप है कि कार्यक्रम के दौरान ही कैबिनेट मंत्री शाहिद मंजूर द्वारा लोगों को साइकिलें बांटी गईं। साइकिल सपा का चुनाव चिह्न है। मंत्री शाहिद मंजूर पर चुनाव सेल के नोडल अधिकारी श्रवण कुमार के निर्देश पर चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया गया है।

यूपी समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही आचार संहिता भी लागू हो चुकी है। चुनाव आयोग ने 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए अधिकारियों को ऐसे सभी नेताओं के होर्डिंग और विज्ञापन को ढकने के आदेश दिए हैं जिसमें किसी जीवित राजनीतिक पदाधिकारी या राजनीतिक दल की उपलब्धियों को उजागर किया गया हो।

राशन लेने पहुंच रहे लोगों के राशन कार्ड पर लगाए गए एक रैपर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का फोटो लगा है।जबकि, किताब पर यह फोटो नहीं है। यह फोटो प्रचार के लिये लगाया गया है जबकि यह चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है।

भारी पुलिस बल के साथ प्रशासन ने चौक-चौराहों पर अभियान चला कर गाड़ियों से झंडे, स्टिकर और हूटर उतार दिये। सुभाष तिराहे पर पुलिस ने कई गाड़ियों से झंडे और नीली बत्ती हटाई। इस दौरान 2 दर्जन से अधिक गाड़ियों के चालान काटे गए।

समुदाय में आक्रोश फैल गया और लोगों की भीड़ एडीएम आवास पर पहुंच गई। ठोस आश्वासन न मिलने पर आक्रोशित लोगों ने पीपल तिराहा मार्ग जाम कर दिया और प्रदर्शन करने लगे। उनकी मांग थी कि प्रशासन गुरूद्वारे में आकर इसके लिये माफी मांगे।