navjot singh sidhu

मुंबई: कपिल शर्मा शो के जज रहे नवजोत सिंह सिद्धू अपने विवादित बयानों और चुनाव की वजह से बाहर हो गए, लेकिन उनका जिक्र एपिसोड अक्सर होता है। शनिवार को जब सलमान खान और कटरीना कैफ द कपिल शर्मा शो में पहुंचे तो कॉमेडी किंग ने बताया कि कटरीना आपके लिए सिद्धू साहब ने खास …

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बृहस्पतिवार को कहा कि चुनाव के दौरान धर्मग्रंथों की बेअदबी पर सिद्धू की टिप्पणी को लेकर वह कांग्रेस आलाकमान से संपर्क करेंगे। चुनाव से एक दिन पहले सिद्धू ने 2015 में धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी की जांच पर सवाल उठाए थे।

पंजाब की ही एक अन्‍य सीट खडूर साहिब पर भी मुख्‍य मुकाबला शिअद और कांग्रेस के बीच है। यहां पर भी करीब 41 फीसद मतदान हुआ है। यहां गांव वासलीकलां में गोली लगने से एक व्‍यक्‍ति के मौत की सूचना है।

कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के बीच संबधों की कड़वाहट अब खुलकर सामने आ गई है। अब मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सिद्धू को लेकर बयान दिया है।

पंजाब के मंत्री एवं कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने शुक्रवार को कहा कि अगर धर्मग्रंथ की बेअदबी के दोषियों को सजा नहीं दी गई तो वह इस्तीफा दे देंगे। हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि वह कैबिनेट से इस्तीफा देंगे या पार्टी से।

पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू से जब उनकी पत्नी के आरोपों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, “मेरी पत्नी नैतिक रूप से इतनी मजबूत हैं कि वह कभी झूठ नहीं बोलेंगी। यही मेरा जवाब है।”

सिद्धू ने मध्य। प्रदेश में एक चुनावी भाषणा के दौरान ट्वीट कर कहा, 'मौसमी मेंढक की तरह संबित पात्रा टर्र-टर्र करते हैं।' उन्होंटने ट्वीट किया, 'मौसमी मेंढक जब टर्र..टर्र..टर्र.. करता है, तो कोयल चुप रहती है।

सिद्धू ने यहां संवाददाताओं से कहा, "मोदी उस दुल्हन की तरह हैं, जो रोटी कम बेलती है और चूड़ियां ज्यादा खनकाती है ताकि मोहल्ले वालों को पता चले कि वह काम कर रही है। यह मैं आठवीं बार पूछ रहा हूं कि मोदी (प्रधानमंत्री के रूप में) मुझे अपनी बस एक उपलब्धि बता दें।"

पंजाब के कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू एक के बाद एक विवादित बयान देते जा रहे हैं। पहले बिहार के कटिहार में मुस्लिमों को लेकर उनके बयान पर बवाल मचा। साथ अलग-अलग रैलियों में सिद्धू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणियां कीं।

पंजाब के मंत्री ने कहा, ‘‘2014 में, मोदी ने कहा था कि न खाऊंगा, न खाने दूंगा लेकिन उन्होंने इसके ठीक उलट किया है।’’ उन्होंने कहा कि मोदी ने 2014 में 300 से अधिक वादे किए थे, जिसमें गंगा नदी की सफाई, प्रति वर्ष दो करोड़ रोजगार पैदा करना और हरेक के बैंक खाते में 15 लाख रुपये जमा करना शामिल था, लेकिन इसमें से कोई भी नहीं हुआ।