pok

ब्रिटेन के मशहूर लंदन ब्रिज के पास हुए आतंकी हमले में शामिल संदिग्ध उस्मान खान का संबंध पाकिस्तान से जुड़ा है। वह 10 साल पहले अपने तीन आतंकी साथियों के साथ पाकिस्तान भी गया था।

भारत का पड़ोसी देश पाकिस्तान हर वक्त इसे नीचे दिखाने की कोशिश करता है। जो पाकिस्तान का नहीं है वो उसे भी अपना ही बताता है या अवैध तरीके से कब्जा करना चाहता है।

5 अगस्त, 2019 को मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटा लिया था। संसद की सिफारिश पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आर्टिकल 370 को प्रभावी रूप से खत्म कर दिया था।

इंडियन आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने शुक्रवार को पीओके पर बड़ा बयान दिया है। बिपिन रावत ने कहा कि पीओके और गिलगिस्तान दोनों ही हमारा है।

पाकिस्तान ने मंगलवार को भारतीय सेना से अपील कि वह अपनी कार्रवाई रोक दे। पाक सेना ने कुछ विदेशी अधिकारियों और पत्रकारों को उस क्षेत्र में ले गई जहां भारतीय सेना ने आतंकी कैंपों पर कार्रवाई की थी।

लगातार घुसपैठ की कोशिश कर रहे आतंकियों पर भारतीय सेना लगातार वार कर रही है। यही वजह है कि अब आतंकी संगठन पीओके के लोगों को गुमराह करने की कोशिश करने जा रहे हैं।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अब खुद सच स्वीकार किया है कि सामीपार से भूसपैठ होती है। उन्होंने यह बात सीधे तौर पर तो नहीं, लेकिन अप्रत्यक्ष रूप से स्वीकार की है।

राजधानी पेरिस में भारतीय मिशन ने फ्रांस के विदेश मंत्रालय को डिमार्च जारी किया। इसके बाद पीओके के राष्ट्रपति को कार्यक्रम करने से रोक दिया गया।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। आए दिन वह भारत के खिलाफ नई साजिश रच रहा है। सेना ने सीमा पार से आतंकियों की घुसपैठ को नाकाम कर दिया है। इसके बाद भी पाकिस्तान की नापाक हरकतें जारी हैं।

29 सितम्बर कि रात पूरा देश सो रहा था लेकिन हमारे वीर सैनिक अपने जान की बाजी लगाकर पाकिस्तान में आतंकियों पर ताबड़ –तोड़  गोलियां बरसा रहे थे । जी हां ये वही रात है जब हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ इंडियन आर्मी के बड़े –बड़े अफसरों की नींद गायब थी ।