political journey of rahul gandhi

इसके बाद भी राहुल गांधी अपनी बात पर अड़े रहे। फिर सीडब्ल्यूसी की दूसरों बैठक हुई। इस दौरान भी उनसे आग्रह किया गया कि वह अध्यक्ष पद को न छोड़े लेकिन इस बार भी वो नहीं माने। अब सवाल खड़ा हुआ कि गांधी परिवार से ऐसा और कौन है जो ये ज़िम्मेदारी उठा सकता है।