pranab mukherjee

पूर्व प्रेसिडेंट प्रणब मुख़र्जी ने अपनी किताब में कहा है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सीताराम केसरी की महत्वाकांक्षा की वजह से गुजराल सरकार गिरी थी।

भारत के 14वें राष्ट्रपति के तौर पर संसद के केंद्रीय कक्ष में मंगलवार (25 जुलाई) को शपथ ग्रहण करने के बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा ने भाषण दिया।

नई दिल्ली : राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पद से मुक्त होने से एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनकी सराहना करते हुए सोमवार को कहा कि उन्होंने उनकी सरकार के फैसलों की न तो कभी आलोचना की और न ही पिछली सरकारों द्वारा लिए गए फैसलों से उनकी तुलना की। मोदी ने कहा, “प्रणब दा …

नई दिल्ली : प्रणव मुखर्जी ने बतौर राष्ट्रपति अपने भाषण में रविवार को कहा कि एक सांसद रहने के दौरान उन्हें इस बात का अहसास हुआ कि संसदीय कार्यवाही में बाधा से सरकार के बजाए विपक्ष का अधिक नुकसान होता है। अपने अनुभवों को याद करते हुए राष्ट्रपति ने कहा, “उन दिनों संसद के दोनों सदन …

नई दिल्ली : निवर्तमान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने रविवार को कहा कि सरकार को कोई कानून लाने के लिए अध्यादेश के विकल्प से बचना चाहिए और सिर्फ अपरिहार्य परिस्थितियों में ही इसका इस्तेमाल होना चाहिए। संसद भवन के केंद्रीय सभागार में आयोजित विदाई समारोह में राष्ट्रपति ने कहा, “मेरा दृढ़तापूर्वक मानना है कि अध्यादेश का इस्तेमाल …

नई दिल्ली: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को सांसदों की ओर से आज (23 जुलाई) विदाई दी जा रही है। संसद के सेंट्रल हॉल में विदाई कार्यक्रम जारी है। गौरतलब है कि वर्तमान राष्ट्रपति के कार्यकाल खत्म होने में अब सिर्फ दो दिन बचे हैं। नए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 25 जुलाई को शपथ लेंगे। राष्ट्रपति के विदाई …

नई दिल्ली : वियतनाम के उप-प्रधानमंत्री एवं विदेश मंत्री फाम बिन्‍ह मिन्‍ह ने 4 जुलाई को राष्‍ट्रपति भवन में राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात की। मिन्‍ह का स्‍वागत करते हुए राष्‍ट्रपति ने सितंबर 2014 में अपनी वियतनाम यात्रा का उल्‍लेख किया और उस दौरे के समय उनका तथा उनके प्रतिनिधिमंडल का हार्दिक स्‍वागत किये जाने …

नई दिल्ली: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने हिंसा की हाल की घटनाओं के खिलाफ आवाज उठाते हुए प्रशासन से पूछा कि क्या हम अपने देश के बुनियादी सिद्धांतों की रक्षा के लिए सक्रिय रूप से पर्याप्त सतर्क हैं। उन्होंने यह भी कहा कि नागरिकों, बुद्धिजीवियों और मीडिया की सतर्कता अंधी और प्रतिगामी ताकतों के खिलाफ सबसे …

भारत में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू होने के बाद दुनिया के बाज़ार अपनी-अपनी समीक्षा करने में जुट गए हैं। विश्व बाज़ार के जानकारों का मानना है कि भारत का यह कदम चीन के लिए जैसा है। इस जीएसटी के बाद भारत में चीन का व्यवसाय काफी प्रभावित होगा और चीनी माल की खपत बहुत नीचे आ जाएगी।

प्रेसिडेंट प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को पूरा हो रहा है। उससे पहले ही उन्होंने दो और दया याचिका खारिज कीं।