rss

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) अपने कट्टर राष्ट्रवाद के लिए मशहूर है। आरएसएस आए-दिन कोई न कोई अपने विवादित बयान की वजह से सुर्खियों में बने रहते है।

संघ प्रमुख मोहन भागवत, गोरखपुर में कल से 27 जनवरी तक चलने वाली पूर्वी उत्तर प्रदेश क्षेत्र की बैठक में हिस्सा लेंगे । बतातें चलें कि गोरखपुर में आरएसएस के पूर्वी क्षेत्र की बैठक शुरू हो रही है जिसमें गोरक्ष, काशी, कानपुर और अवध प्रान्त के कार्यकर्ताओं और प्रचारकों को बुलाया गया है।

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर कोहराम मचा हुआ है। शहर-शहर उठते सीएए के समर्थन में उठते आवाज को कम करने के लिए बीजेपी और उसके सहयोगी संगठन लगातार प्रयास कर...

राष्ट्रीयस्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के बाद विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) ने जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की मांग की है। प्रयागराज में संत सम्मेलन के दौरान...

शिवसेना, कांग्रेस और नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी(एनसीपी) की सरकार में अनबन की खबरें सामने आ रही हैं। विचारधारा के स्तर पर बंटी हुई राजनीतिक पार्टियों की...

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) प्रमुख मोहन भागवत ने गुरुवार को जिज्ञासा और समाधान सत्र में स्वयंसेवकों के सवालों का बेबाकी..

सीएए और आर्टिकल 370 और तीन तलाक के बाद अब सरकार दो बच्चों का कानून ला सकती है। दरअसल, स्वयं सेवक संघ (RSS) के प्रमुख मोहन भागवत ने इस बात का ऐलान किया है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में उलेमाओं की बैठक बुलाई थी। आरएसएस के इस कार्यक्रम में जमकर हंगामा हुआ। इस कार्यक्रम में दो मुस्लिम गुट आपस में भिड़ गए और मारपीट की हालत पैदा हो गई है।

नई दिल्ली।  साल 2020 की शुरुआत दुनिया में बड़ी हलचलों के साथ हुई है। फिर चाहे अमेरिका और ईरान के बीच विवाद हो या फिर भारत में लगातार हो रहे सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन। 2020 में दुनिया के सामने कौन-सी बड़ी चुनौती होंगी इनको लेकर अमेरिका के एक ग्रुप ने रिपोर्ट जारी की है। …

अयोध्या में राममंदिर निर्माण का फैसला आने के बाद अब मंदिर निर्माण के लिए आगे का रास्ता तय करने के लिए राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ एक बार फिर सक्रिय हो गया है।