un

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र की शुरुआत हो चुकी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस सत्र को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी से पहले इस सत्र को मॉरिशस के राष्ट्रपति, इंडोनेशिया के उपराष्ट्रपति और लिसोथो के संबोधित करेंगे।

जलवायु परिवर्तन पर सयुक्त राष्ट्रसंघ (यूएन) में अपने भाषण से एक 16 साल की बच्ची दुनियाभर के नेताओं को झकझोर दिया। इस एक्टिविस्ट की चिंताओं और सवालों से नेताओं के रोंगटे खड़े हो गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंगलवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से न्यूयॉर्क में मुलाकात होगी। इससे पहले दोनों नेता ह्यूस्टन में हाउडी मोदी इवेंट के दौरान मिले थे।

ह्यूस्टन में 'हाउडी मोदी' को संबोधित करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी न्यूयॉर्क पहुंच गए हैं। वह यहां जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव के शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे और समिट को संबोधित करेंगे।

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में भारत के स्थाई प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने इशारों-इशारों में पाकिस्तान पर हमला बोला है। अकबरुद्दीन ने कहा कि वह अपना स्तर गिरा सकते हैं, लेकिन इससे भारत का स्तर ही ऊंचा होगा।

कश्मीर के मुद्दे पर दुनिया भर से मूंह की खाने के बाद पाकिस्तान को संयुक्त राष्ट्र ने एक बार फिर झटका दिया है। पाकिस्तान लगातार जम्मू-कश्मीर के मामले को अंतरराष्ट्रीय मंचों पर उठाया रहा है, लेकिन हर तरफ से उसे मूंह की खानी पड़ी है।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के सदस्यों के बीच कश्मीर मुद्दे पर शुक्रवार को अनौपचारिक बैठक हुई। यह बैठक बंद दरवाजे में हुई। इसके बाद संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी दूत अकबरुद्दीन ने कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना भारत का आंतरिक मामला है।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में चीन की मांग पर जम्मू कश्मीर मुद्दे को लेकर बैठक खत्म हो चुकी है। इस बैठक में चीन और पाकिस्तान को तगड़ा झटका लगा है। कश्मीर मुद्दे पर रूस भारत के साथ खड़ा हो गया। रूस ने कश्मीर को लेकर सिर्फ द्विपक्षीय बातचीत का समर्थन किया है। 

लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल 2019 पर चर्चा के दौरान कांग्रेस की जमकर किरकिरी हुई। लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने जम्मू-कश्मीर को ऐसा बयान दिया जिसकी वजह से कांग्रेस किरकरी हुई। सोशल मीडिया पर भी लोगों का आक्रोश दिखा।

इस्लामाबाद: अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष यानी आईएमएफ आज वॉशिंगटन में होने वाली अपनी बैठक में पाकिस्तान को छह अरब डॉलर का कर्ज देने के प्रस्ताव पर विचार करने वाला है। कयास लगाये जा रहे हैं कि इस प्रस्ताव को मंजूरी मिल जाएगी। बता दें, अगर इस प्रस्ताव को मंजूरी मिलती है तो पाकिस्तान को तीन साल …