uttar pradesh police

चैबेपुर के बिकरू गांव में सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों को मौत के घाट उतारने वाले हिस्ट्रीशीटर अपराधी विकास दुबे के दो बीघे की चाहरदिवारी में बने किलेनुमा मुकान में पुलिस ने बुलडोजर चलाकर करीब दो घंटे में मलबे में तब्दील कर दिया है।

शुक्रवार को अपर पुलिस अधीक्षक कमलेश दीक्षित के नेतृत्व में सुभाष चौराहे पर लाक डाउन का पालन कराए जाने के संबंध में अभियान चलाया गया।

आज फिर से नाबालिग के घर के दरवाजे पर चिठ्ठी चिपकी मिली। जिसमें लिखा था कि अगर आठ लाख रूपये नही दे पा रहे हो तो पांच लाख रूपये ही दे दो। साथ ही धमकी भी दी है कि अगर पुलिस के पास गए तो तुम्हारे बेटे को जान से मार देंगे।

पुलिस में तैनात टीएसआई विपिन शुक्ला की। विपिन शुक्ला अपने साथी सिपाहियों के साथ सदर बाजार क्षेत्र में स्थित पुलिस लाईन के पास जाम खुलवा रहे थे। तभी अचानक पुलिस लाईन के पास खड़े एक राहगीर को दिल का दौरा पड़ गया। जिससे वह जमीन पर गिर गया।

राम गोविंद चौधरी ने कहा कि रोजगार देने के बजाय सरकार नौकरी छीनने का काम कर रही है। किसान आत्महत्या कर रहे हैं, अर्थव्यवस्था मंदी से गुजर रही है, ऐसे में मोदी सरकार एनआरसी, एनपीआर और सीएए लाकर जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है।

मृतका की मां ने आरोप लगाया कि आरोपी लेखपाल दबंग हैं और उस पर पहले भी कई मामले दर्ज हैं। पुलिस में पहुंच के चलते पहले उनका केस नहीं दर्ज हुआ, बाद में कोर्ट के आर्डर पर मुकदमा दर्ज किया गया, लेकिन कोई गिरफ्तारी नहीं हुई।

प्रदेश में महिलाओं के प्रति बढ़ रहे अपराधों को देखते हुए महिलाओं की सुरक्षा के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक नई पहल की है। रात में महिलाओं को सुरक्षित घर पहुंचाने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस की आपात सेवा

यूं तो योगी सरकार कहती है उत्तर प्रदेश पुलिस देश की सबसे बड़ी पुलिस है, पुलिस की गाड़ियों, थाना या चौकी में आप हमेशा लिखा हुआ देखें होंगे कि "उत्तर प्रदेश पुलिस सदैव आपकी सेवा में तत्पर है"

बीती 19 अकटूबर को चेहल्लुम की ड्यूटी करने वे चौक के रसूली वाली मस्जिद के पीछे गए हुए थे। ड्यूटी के दौरान शाम लगभग 6 बजे अचानक तबियत बिगडऩे से वो बेहोश हो गए। साथ में ड्यूटी कर रहे सिपाही हिमांशु साहू ने साथियो की मदद से आनन फानन उनको ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया।

राजधानी के विभूतिखंड थाना क्षेत्र में शनिवार कि शाम फर्जी डिप्टी एसपी बनकर सेवी ग्रैंड होटल में पकड़ा गया, जो अपने को गोमतीनगर का नया सीओ बता रहा था। होटल मैनेजर ने अभी तबादला हुए सीओ को फ़ोन कर दिया कि होटल में एक नए सीओ हिमांशु शुक्ल रुकने के लिए आये है, जो अपने को गोमतीनगर का नया सीओ बता रहे हैं।