×

संगम नगरी को CM अखिलेश ने दी सौगात, वृद्ध, दिव्यांग तीर्थ यात्रियों के लिए संगम तट तक फोर लेन सेतु

सीएम अखिलेश यादव ने रविवार (25 दिसंबर) को लोकभवन में इलाहाबाद के संगम तट पर बनने वाले पुल का शिलान्यास किया। ये पुल संगम तट बनेगा जिसकी लागत 1,250 करोड़ है।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 25 Dec 2016 10:49 AM GMT

संगम नगरी को CM अखिलेश ने दी सौगात, वृद्ध, दिव्यांग तीर्थ यात्रियों के लिए संगम तट तक फोर लेन सेतु
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: सीएम अखिलेश यादव ने रविवार (25 दिसंबर) को लोकभवन में इलाहाबाद के संगम तट पर बनने वाले पुल का शिलान्यास किया। ये पुल संगम तट पर बनेगा। जिसकी लागत 1,250 करोड़ है। इसमें वृद्ध, अशक्त और दिव्यांग तीर्थ यात्रियों के लिए संगम तट तक फोर लेन सेतु और वहां पहुंचने के मार्ग का शिलान्यास शामिल है।

इसके अलावा सीएम ने 3,368 करोड़ की लागत की इलाहाबाद की 25 परियोजनाओं का भी शिलान्यास और लोकार्पण किया। इसके अलावा यूपी डफरिन अस्पताल इलाहाबाद, 100 बेड का एमसीएच विंग का निर्माण, मेजा तहसील में अनावासीय भवनों का निर्माण और करछना के आवासीय भवनों का निर्माण कार्य, पुलिस लाइन परिसर में क्राइम ब्रांच ऑफिस व अमर चंद्र शेखर आजाद पार्क का सुंदरीकरण व इलाहाबाद की 11 सडक़ों का निर्माण कार्य का भी शुभारंभ किया। इस कार्यक्रम में इलाहाबाद से आए कई संत मौजूद रहे।

फिर गुल हुई बिजली

बता दें कि कार्यक्रम के दौरान लोकभवन की बिजली एक बार फिर गुल हो गई। इसके कारण कार्यक्रम कुछ देर के लिए बाधित हो गया। सीएम के कार्यक्रम के दौरान लोकभवन में बिजली कटने का यह दूसरा मामला है। पहले मामले में तीन-चार लोगों के खिलाफ कार्रवाई हुई थी। इसके बाद भी हालत जस की तस बनी है। कार्यक्रम के दौरान बिजली गायब होने के थोड़ी देर बाद लोकभवन की बिजली व्यवस्था बहाल हुई। लोकभवन में बिजली गुल होने की सूचना से ऊर्जा विभाग के अंदर खलबली मच गई।

ये पुल ऐसा बने, जो नजीर बन जाए

-कार्यक्रम के दौरान सीएम अखिलेश यादव ने संगम का पुल बनाने के लिए आजम खान को बधाई दी।

-उन्होंने कहा कि मैंने आजम खान से कहा है कि ये पुल ऐसा बने, जो नजीर बन जाए।

-उन्होंने लखनऊ से ही इलाहाबाद के पुल का उद्घाटन करने का जिक्र करते हुए कहा कि हमें चुनावों की तारीख का इंतजार है।

-हम सोचते थे चुनावों की तारीख 24 या 25 को आ जाएगी।

-तारीख की वजह से हमें ये कार्यक्रम लोकभवन में करना पड़ा, लेकिन इसका उद्घाटन जरूर इलाहाबाद में ही जाकर होगा।

साधुजन कहां से एटीएम लाएंगे

-नोटबंदी पर सीएम अखिलेश ने कहा कि साधुजन कहां से एटीएम लाएंगे।

-केंद्र सरकार ने उन्हें कहां उलझा दिया है।

-कई मंदिर तो ये दावा करते थे कि उनके यहां इतना ज्यादा चढ़ावा आया।

-अब वो क्या करेंगे।

हमारा आपका लेनदेन काला सफेद होता है

-सीएम ने कहा मैंने पहले भी कहा है कि पैसा काला सफेद नहीं होता।

-हमारा आपका लेनदेन काला सफेद होता है।

-हमारी परंपरा है कि गुरु जी प्रसन्न हो गए तो कुछ चढ़ा दिया।

-अब क्या करें, पूरे देश का कारोबार थम गया है। देश ऐसे में खुशहाल नहीं हो सकता।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story