Top

जब मदद के लिए नहीं आया गांव तो मददगार बनी चंदौली पुलिस, देखें वीडियो

तुलसीदास जी ने एक चौपाई लिखा है,"धीरज धर्म मित्र और नारी,आफत काल परखिएहु चारी "कोरोना महामारी अच्छे अच्छे लोगों के साथ अपनों की भी पहचान भी करा दे रहा है।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkVidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 9 May 2021 3:53 AM GMT

जब मदद के लिए नहीं आया गांव तो मददगार बनी चंदौली पुलिस, देखें वीडियो
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

चन्दौली: रामचरितमानस में तुलसीदास जी ने एक चौपाई लिखा है,"धीरज धर्म मित्र और नारी,आफत काल परखिएहु चारी "कोरोना महामारी अच्छे अच्छे लोगों के साथ अपनों की भी पहचान भी करा दे रहा है। इस महामारी में अपने भी मुख मोड़ ले रहे हैं।

लेकिन "जिसका कोई नहीं उसका तो पुलिस है यारों "की तर्ज पर चन्दौली पुलिस ने शनिवार को ग्राम सभा भगवानपुर थाना कोतवाली चन्दौली निवासी जय शंकर उपाध्याय के पत्नी की मृत्यु बीमारी के कारण हो गई थी। घर पर पति के अलावा कोई नही आया तो अन्तिम संस्कार हेतु पति ने सूचना 112 पर दिया।

जानकारी होते ही पुलिस ने उच्चाधिकारियों को दिया। जिस पर एस पी ने पीड़ित की मदद का निर्देश दिया। जिसके क्रम में प्रभारी निरीक्षक कोतवाली चन्दौली मय पुलिस बल एवं अन्य सम्बन्धित के साथ मौके पर पहुंचे।

शव को कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए शव को घर से बाहर निकलवा कर अंतिम संस्कार की व्यवस्था करते हुए बलुआघाट भिजवा कर शवदाह कराया । पुलिस की इस कार्यवाही से जहां पीड़ित की मदद हो पाई, वही मुसीबत के समय में लोगों की पहचान भी हो गई।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story