यूपी के सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस, नतीजे चौंकाएंगे: गुलाम नबी आजाद

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के गठबंधन में जगह न मिल पाने के बाद कांग्रेस ने रविवार को अपने दम पर लोकसभा चुनाव लड़ने की घोषण कर दी है। कांग्रेस ने रविवार को कहा कि वह सभी 80 सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी और चुनाव में आश्चर्यजनक प्रदर्शन करेगी।

गुलाम नबी आजाद बोले- मोदी सरकार एक्टिव नहीं रिएक्टिव है, घटना का करती है इंतजार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के गठबंधन में जगह न मिल पाने के बाद कांग्रेस ने रविवार को अपने दम पर लोकसभा चुनाव लड़ने की घोषण कर दी है। कांग्रेस ने रविवार को कहा कि वह सभी 80 सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी और चुनाव में आश्चर्यजनक प्रदर्शन करेगी।

यह भी पढ़ें…..कुंभ का औपचारिक शुभारंभ 15 से, उससे पहले जानिए सुनी-अनसुनी

चौकाएंगे यूपी के नतीजे

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने प्रदेश की राजधानी लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस की। गुलाम नबी आजाद ने कहा कि कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश में सभी 80 सीटों पर पूरी ताकत के साथ लोकसभा का चुनाव लड़ेगी। आजाद ने कहा कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस व भाजपा की सीधी लड़ाई है। हम यूपी की सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि हम कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में डटकर चुनाव लड़ेंगे और परिणाम से लोगों को चौंका देंगे।

यह भी पढ़ें…..पुडुचेरी : सीएम ने किरण बेदी को दी गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी, और फिर

बीजेपी और कांग्रेस के बीच मुकाबला 

आजाद ने यह भी कहा है कि देश में होने वाले चुनाव में मुख्य मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच होना है, जिसके लिए पार्टी ने अपनी तैयारियां करनी शुरू कर दी है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में राज्य कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर भी मौजूद थे।

कांग्रेस ने नहीं तोड़ा गठबंधन 

आजाद ने कहा कि यूपी गठबंधन कांग्रेस ने नहीं तोड़ा है, बल्कि सपा और बसपा ने चैप्टर क्लोज किया है। उन्होंने कहा कि गठबंधन में जबरन नहीं रह सकते। साथ ही आजाद ने कहा कि बीजेपी को हराने वाले साथ आ सकते हैं। उन्होंने कहा कि साथ आने वाले दलों का समर्थन करेंगे। आजाद ने कहा कि यूपी में परिणाम चौंकाने वाले होंगे। उन्होंने कहा कि हम सभी छोटे दलों का स्वागत करते हैं।

यह भी पढ़ें…..जानिए क्यों मनाई जाती है लोहड़ी, क्या है इस त्योहार का महत्व

इससे पहले माना जा रहा था कि कांग्रेस यूपी में सपा-बसपा के साथ होने वाले गठबंधन में शामिल हो सकती है। ऐसा कहा जा रहा था कि कांग्रेस पार्टी को महागठबंधन में हिस्सेदारी दी जा सकती है, लेकिन शनिवार को एसपी-बीएसपी द्वारा गठबंधन का ऐलान किए जाने के बाद इन संभावनाओं पर विराम लग गया। अब कांग्रेस ने राज्य में अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App