Top

यासीन ने तोड़ा दम, मरने से पहले कहा- सपा मंत्री की शह पर जलाया गया

Admin

AdminBy Admin

Published on 12 April 2016 8:00 AM GMT

यासीन ने तोड़ा दम, मरने से पहले कहा- सपा मंत्री की शह पर जलाया गया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बाराबंकी: बाराबंकी के हैदरगढ़ निवासी यासीन की लखनऊ में इलाज के दौरान मंगलवार सुबह मौत हो गई। मरने से पहले उसने कैबिनेट मंत्री अरविंद सिंह गोप और उनके जिला पंचायत अध्यक्ष भाई अशोक सिंह पर दबंगो का साथ देने का आरोप लगाया था।

क्‍या कहा था यासीन ने

-मृतक यासीन का कहना था कि जमीन पर उनकी पार्टी के छुटभैया नेता जबरन उसकी जमीन हथियाना चाहते थे।

-उनका साथ मंत्री जी और उनके भाई दे रहे थे।

-साथ ही यह आरोप भी था कि उनके ही शय पर दबंगो ने उसके ऊपर मिट्टी का तेल डालकर जिन्दा जला दिया था।

-गंभीर हालत में उसे लखनऊ रेफर किया गया था।

ये भी पढ़े..सपा नेता के बेटे ने की छेड़छाड़-कपड़े फाड़े, बाप बोला-यादव हूं, मरवा दूंगा

क्‍या है पूरा मामला

-मामला बाराबंकी के कोतवाली हैदरगढ़ क्षेत्र के कस्बा हैदरगढ़ का है।

-जहां यासीन नाम के व्यक्ति को दबंगों ने पुलिस की मौजूदगी में तेल डालकर उसे आग के हवाले कर दिया गया।

-विक्टिम का आरोप था कि सपा सरकार के मंत्री की शय पर दबंगों ने जमीनी विवाद के चलते उसकी मां से अभद्रता की और उसे आग लगा दी।

विक्टिम 70 फीसदी जल चुका था

-बाराबंकी के जिला हॉस्पिटल में ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर राजेश ने बताया कि यासीन 70 फीसदी जल चुका था।

-यासीन को प्राथमिक उपचार के बाद उसे राजधानी लखनऊ रेफर कर दिया गया।

ये भी पढ़ें...दबंग यादव परिवार के लड़कों ने किया गैंगरेप,विक्टिम ने कहा-CM करें न्याय

यूपी सरकार के मंत्रियों पर लगाया था आरोप

-यासीन ने बताया था कि यूपी सरकार के ग्राम विकास मंत्री अरविंद सिंह गोप, उनके बड़े भाई और बाराबंकी से जिला पंचायत अध्यक्ष अशोक सिंह की शय पर दबंगों ने उसे जलाया था।

-यासीन के अनुसार दबंगों का उससे जमीन का विवाद चल रहा था।

-मंत्री और उनके भाई लगातार उस पर दबंगों को जमीन देने का दबाव बना रहे थे।

-इस बात की फरियाद लेकर यासीन की मां मंत्री और उनके भाई के घर गई थी।

-वहां मंत्री और उनके भाई ने उल्टा उससे ही आधी जमीन दबंगों को दे देने का दबाव बनाया।

पुलिस ने भी बनाया दबाव

-पुलिस भी मंत्री और उनके भाई के इशारे पर यासीन पर दबंगों को जमीन दिए जाने का दबाव बना रही थी।

-इसके लिए हैदरगढ़ के कोतवाल और दरोगा ने 15 दिन पहले भी यासीन के घर जाकर उसकी मां के साथ अभद्रता और मारपीट की थी।

-पुलिस ने यासीन की मां से जमीन दबंगों को देने की बात कही थी।

ये भी पढ़ें...STING: सपा नेता बोले-40 लाख में बना चेयरमैन, यादव होता तो फ्री में…

यासीन की मां से भी हुई थी अभद्रता

-यासीन ने बताया था कि दबंग पुलिस के साथ जमीन को खाली कराने पहुंचे।

-पुलिस बल को देखकर पहले वह डरकर भाग खड़ा हुआ।

-पुलिस ने उसकी मां हबीबुल को पकड़ कर अभद्रता शुरू कर दी।

-वह कुछ दूरी पर छिपकर अपनी मां को देखने लगा।

-तभी दबंग इस्माईल, मोबीन और लोले की नजर यासीन पर पड़ी।

-दबंगों ने यासीन को पकड़ लिया।

जमीन न देने पर जलाया था जिंदा

-जब यासीन जमीन देने को तैयार नहीं हुआ, तो दबंगों ने यासीन को जिंदा जलाकर मारने का प्रयास किया।

-दबगों के साथ भारी संख्या में खड़ी पुलिस चुपचाप तमाशबीन बनकर देखती रही।

-आस-पास के लोगों ने यासीन की आग बुझाई।

-पुलिस ने यासीन की आग बुझाने का प्रयास तक नहीं किया।

विक्टिम की बहन ने कहा

-यासीन की बहन शाहजहां के मुताबिक यह जमीन नगर पंचायत हैदरगढ़ की है।

-यह जमीन पिछले लगभग 50 सालों से उनकी मां हबीबुल के नाम पर है।

-इस जमीन पर उसके मामा जो काफी दबंग है नीयत खराब हो गई थी।

-शाहजहां ने बताया कि इस जमीन का विवाद डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में विचाराधीन है।

-शाहजहां ने इस घटना के लिए सीधा-सीधा अरविंद सिंह गोप और उनके जिला पंचायत अध्यक्ष भाई अशोक कुमार सिंह पर आरोप लगाया है।

क्या है पुलिस का कहना

-अपर पुलिस अधीक्षक सफीक अहमद ने यासीन के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया।

-उन्होंने कहा कि यासीन ने खुद अपने हाथों से अपने ऊपर तेल डालकर आग लगाई थी।

-पुलिस का कहना है कि पुलिस एक आदेश के तहत कार्रवाई के लिए मौके पर गई थी।

-सरकारी काम में व्यवधान डालने के उद्देश्य से यासीन ने खुद आग लगाई होगी।

-वहीं पुलिस ने यासीन और उसके परिवार पर सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का केस भी दर्ज किया है।

Admin

Admin

Next Story