×

प्रियंका गाँधी शक्ति प्रोजेक्ट के जरिए युवा कार्यकर्ताओं से करेगी बात

कांग्रेस पार्टी शक्ति प्रोजेक्ट का इस्तेमाल हथियार की तरह करने वाली है।इस प्रोजेक्ट से युवा अपने मन की बात और संगठन के काम काज से सम्बंधित बाते प्रियंका गाँधी से करेंगे।अब युवाओं में जोश भरने के लिए राहुल गाँधी और प्रियंका किसी भी कार्यकर्ता से सीधे संवाद करने की शुरुआत करने वाले है।कांग्रेस के शक्ति प्रोजेक्ट से यूपी के 01 लाख 41 हजार बूथों के कार्यकर्ताओं को जोड़ा गया है।

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 5 Feb 2019 6:38 AM GMT

प्रियंका गाँधी शक्ति प्रोजेक्ट के जरिए युवा कार्यकर्ताओं से करेगी बात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कानपुर: कांग्रेस पार्टी शक्ति प्रोजेक्ट का इस्तेमाल हथियार की तरह करने वाली है।इस प्रोजेक्ट से युवा अपने मन की बात और संगठन के काम काज से सम्बंधित बाते प्रियंका गाँधी से करेंगे।अब युवाओं में जोश भरने के लिए राहुल गाँधी और प्रियंका किसी भी कार्यकर्ता से सीधे संवाद करने की शुरुआत करने वाले है।कांग्रेस के शक्ति प्रोजेक्ट से यूपी के 01 लाख 41 हजार बूथों के कार्यकर्ताओं को जोड़ा गया है।

यह भी पढ़ें.....#CBIVsMamata : आजम खान ने जोड़ दिया हिंदू-मुस्लिम एंगल

कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश में पिछले छह महीने में कार्यक्रताओं की फ़ौज खड़ी कर दी। यूथ कांग्रेस और कांग्रेस सेवा दल में बड़ी संख्या में युवाओं ने सदस्यता ग्रहण की। इसके साथ ही तीन राज्यों में कांग्रेस की सरकार बनने के और प्रियंका गाँधी को कांग्रेस महासचिव बनाए से पार्टी का कार्यकर्ता उत्साहित है। संगठन की इस कामयाबी से कांग्रेस पार्टी में ख़ुशी का माहौल है।

यह भी पढ़ें.....प्रियंका गांधी पर बीजेपी महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष ने कही ये बात

2014 लोकसभा चुनाव के बाद से कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश में हाशिए पर चली गई थी। लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले संगठन ने एकजुट होकर पार्टी को उसकी खोई हुयी पहचान दिलाने के प्रयास में लगी है। कांग्रेस पार्टी ने प्रदेश के युवा कार्यकर्ताओं को शक्ति प्रोजेक्ट से जोड़ने का काम लगभग पूरा कर लिया है।

यह भी पढ़ें.....कुंभ में प्रियंका गांधी बनीं कांग्रेस की दुर्गा, लोकसभा चुनाव में ऐसे करेंगी शत्रुओं का वध

वैसे तो प्रियंका गाँधी को ईस्ट यूपी का प्रभारी बनाया गया है। लेकिन वो पूरे उत्तर प्रदेश पर नजर रखेगी। प्रियंका गाँधी किसी भी कार्यकर्ता से किसी भी वक्त बात करके उस क्षेत्र की जमीनी हकीकत को समझ सकती है।कांग्रेस कार्यकर्ताओं में इस बात को लेकर ख़ुशी का माहौल है। वहीं कार्यकर्ता भी संगठन के कार्यो में दिए गए योगदान को प्रियंका गाँधी से शेयर कर सकते है , बल्कि सीधे संवाद भी कर सकते है।

यह भी पढ़ें.....प्रियंका गांधी को मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ाने की मांग, कांग्रेसियों ने पास किया प्रस्ताव

एक वरिष्ट कांग्रेस नेता ने अपना नहीं बताने की शर्त पर बताया कि शक्ति प्रोजेक्ट कार्यकर्ताओं और नेताओं के बीच की दीवार को ख़त्म करने का काम रहा । कांग्रेस पार्टी का एक-एक कार्यकर्ता परिवार का सदस्य है। परिवार का सदस्य अपने घर के मुखिया से सीधे बात कर सकता है।वो अपनी समस्याओं को शेयर कर सकता और संगठन के लिए अच्छे आईडिया दे सकतें हैं। वहीं प्रियंका गाँधी भी इस प्रोजेक्ट के तहत यह देख रही है कि हमारा कौन सा कार्यकर्ता और नेता जमीनी स्तर पर कितनी मेहनत कर रहा है।

यह भी पढ़ें.....नरेन्द्र मोदी-योगी आदित्यनाथ के गढ़ में प्रियंका गांधी के सामने कई चुनौतियां

इसके साथ ही प्रियंका गाँधी लगातार यूपी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से शक्ति प्रोजेक्ट के तहत बात भी कर चुकी है। लगातार जमीन पर काम करने वाले पदाधिकारियों से बात करके उनके आईडिया ले रहीं है। इस संवाद प्रक्रिया से कार्यकर्ताओं के काम करने का जोश बढ़ा है। कार्यकर्ताओं के कामों की लगातार मानिटरिंग भी की जा रही है।

यह भी पढ़ें.....प्रियंका गांधी पर कैलाश विजयवर्गीय के विवादित बोल, चॉकलेटी चेहरों के अलावा कांग्रेस के पास कुछ नहीं

उत्तर प्रदेश में यूथ कांग्रेस बड़ी ताकत बनकर उभरा है। यूथ कांग्रेस ने जितनी तेजी के साथ पांच लाख कार्यकर्ताओं की फ़ौज खड़ी की है उससे बीजेपी और ,सपा-बसपा गठबंधन भी परेशान है।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story