×

Sonbhadra: जमानत पर छूटे दुष्कर्म के आरोपी प्रधान ने निकाला था जुलुस, SP ने थाने से मांगी गई आख्या

Sonbhadra: जमानत पर छटे दुष्कर्म के आरोपी प्रधान द्वारा निकाले गए जुलूस और भोजपुरी गाने पर जमकर थिरकने की जांच शुरू हो गई है। एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने इस मामले में थाने से आख्या मांगी है।

Kaushlendra Pandey
Updated on: 20 May 2022 2:13 PM GMT
Sonbhadra News In Hindi
X

जमानत पर छूटे दुष्कर्म के आरोपी प्रधान ने निकाला था जुलुस। 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sonbhadra: जमानत पर छटे दुष्कर्म के आरोपी प्रधान द्वारा निकाले गए जुलूस और भोजपुरी गाने आज जेल होई, काल्ह बेल होई, परसों से उहे खेल होई..., पर जमकर थिरकने की जांच शुरू हो गई है। एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह (SP Amarendra Prasad Singh) की तरफ से जहां इस मामले में थाने से आख्या मांगने के साथ ही, दोनों पक्षों के लोगों को भारी धनराशि से पाबंद करने के निर्देश दिए गए हैं।

पीड़िता की तरफ से अधिवक्ता के जरिए न्यायालय को दी जानकारी

वहीं, पीड़िता की तरफ से अधिवक्ता के जरिए न्यायालय को इसकी जानकारी दी गई है, जहां सुनवाई के लिए 8 जूून तिथि मुकर्रर की गई है। प्रकरण को लेकर गांव में तनाव की स्थिति बताई जा रही है। बताते हैं कि पुरना निवासी रमेश जो गांव का प्रधान है, उस पर एक अधेड़ उम्र की महिला ने दुष्कर्म का आरोप लगाया हुआ है।

पुलिस ने कोर्ट से मिले आदेश पर दुष्कर्म का मामला दर्ज की विवेचना

इस मामले में पुलिस ने कोर्ट से मिले आदेश पर दुष्कर्म का मामला दर्ज कर विवेचना की और मिले साक्ष्यों के आधार पर न्यायालय में चार्जशीट प्रस्तुत की। वहीं, आरोपी बनाए गए प्रधान को जेल भेजा गया। बताया जा रहा है कि गत 13 मई को जमानत पर वह छूटकर बाहर आया तो उसके समर्थकों ने उसे फूल-माला से लाद दिया। वहीं, डीजे के साथ गांव में जुलूस भी निकाला गया। समर्थकों के साथ देर तक जुलूस निकालने, भोजपुरी गाने पर जमकर थिरकने का कथित वीडियो बृहस्पतिवार की शाम वायरल हुआ तो हड़कंप मच गया। मामला एसपी के संज्ञान में पहुंचा तो उन्होंने इसकी जांच कराई।

मामले को लेकर कार्रवाई भी शुरू हो गई: एसपी

डीआईजी एवं एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह (SP Amarendra Prasad Singh) ने बताया कि जांच में वीडियो सही पाया गया है। इस प्रकरण को पीड़िता को तरफ से 18 मई को ही अदालत में प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया जा चुका है, जिस पर आठ जून को सुनवाई के लिए तिथि नियत है। मामले में उन्होंने थाने से आख्या मंगाई है। चूंकि विरोधी पक्ष यानी प्रधानी के चुनाव में पराजित उम्मीदवार पर एक अधेड़ महिला ने दुष्कर्म की एफआईआर (FIR) दर्ज करवाई हुई है। वह एफआईआर भी कोई के आदेश पर ही हुई है। मामले में दोनों पक्षों के कुछ लोगों की जरूरत से ज्यादा सक्रियता को देखते हुए, दोनों पक्षों के ऐसे लोगों को भारी धनराशि से पाबंद करने के निर्देश दिए गए हैं। एसपी ने बताया कि इसको लेकर कार्रवाई भी शुरू हो गई है।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story