×

Andhra Pradesh Violence: जला दिया मंत्री का घर, जिले का नाम बदलने पर आगजनी-पथराव

Andhra Pradesh News: कोनसीमा जिले का नाम बदले जाने को लेकर सैकड़ों की संख्या में युवकों ने जमकर उत्पात मचाया। बसों में आग लगा दी गई और पथराव की घटना को अंजाम दिया गया।

Shreya
Updated on: 24 May 2022 4:15 PM GMT
Andhra Pradesh Violence: प्रदर्शनकारियोंं का तहलका, जिले का नाम बदलने पर आगजनी-पथराव, फूंका गया मंत्री का घर
X

आंध्र प्रदेश में हिंसा (फोटो साभार- ट्विटर)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Andhra Pradesh Hinsa: आंध्र प्रदेश के अमलापुरम (Amalapuram) में तब तनाव का माहौल बन गया, जब बड़ी संख्या में लोगों ने क्लॉक टॉवर सेंटर के पास विरोध प्रदर्शन किया। सैकड़ों युवकों ने नारेबाजी करते हुए कोनसीमा जिले (Konaseema) का नाम बदले जाने को लेकर प्रोटेस्ट किया। केवल इतना ही नहीं बल्कि प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान परिवहन मंत्री पी.विश्वरूप के आवास में आग लगा दी, हालांकि गनीमत यह रही कि मंत्री या उनके परिवार को किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ है।

आंध्र प्रदेश में हिंसा

बताया जा रहा है कि कोनसीमा जिले के नाम को बदलने को लेकर अमलापुरम में सैकड़ों की संख्या में युवकों ने विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। उनकी मांग है कि जिले का नाम न बदलकर मूल नाम ही रहने दिया जाए। दरअसल, कोनसीमा का नाम बदल कर बीआर आंबेडकर रखने की बात कही गई है। ऐसे में आज यानी मंगलवार को JEC ने अमलापुरम में स्थानीय कलेक्ट्रेट का घेराव किया। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने इलाके में धारा 144 लगा दी है। हालांकि हालात इससे नहीं संभल सके, प्रदर्शनकारी हिंसा पर उतर आए।

(फोटो साभार- ट्विटर)

बसों को किया गया आग के हवाले

मिली जानकारी के मुताबिक, युवकों ने प्रदर्शन के दौरान जमकर पथराव किया और साथ ही एक एपीएसआरटीसी बस समेत कुल 5 बसों को आग के हवाले कर दिया गया। पथराव में डीएसपी कोनसीमा बेहोश हो गईं और एसपी सुब्बारेड्डी के भी घायल होने की खबर है। इसके अलावा परिवहन मंत्री के आवास में आग लग दी गई, लेकिन मंत्री वहां से भाग निकले और पुलिस ने वक्त रहते उनके परिवार के सदस्यों को बचा लिया। साथ ही प्रदर्शनकारियों ने विधायक पी. सतीश के आवास और विश्वरूप के कैंप कार्यालय में भी तोड़फोड़ की और बाद में आग लगा दी।

(फोटो साभार- ट्विटर)

गृहमंत्री ने की घटना की निंदा

स्थिति को काबू में लेने के बाद पुलिस को लाठीचार्ज का सहारा लेना पड़ा। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया और फिर अमलापुरम में बिजली आपूर्ति बंद कर दी गई। इस घटना में करीब 20 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। इस घटना पर आंध्र प्रदेश के गृह मंत्री तनेती वनिता का बयान भी सामने आया है। उन्होंने घटना की निंदा करते हुए कहा कि सभी राजनीतिक दल जिले का नाम बदलना चाहते थे। मैं शांति की अपील करता हूं।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story