Top

भूकंप से हिला पूर्वोत्तर भारत, डर के मारे लोगों की हालत खराब

भारत में कोरोना महामारी के बीच पूर्वोत्तर भारत से भूकंप के तेज झटके की खबर आ रही है।

Newstrack

NewstrackNewstrack Network NewstrackRoshni KhanPublished By Roshni Khan

Published on 28 April 2021 4:53 AM GMT

earthquake-in-assam-strong-tremors-in-parts-of-northeast
X

असम (सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारत में कोरोना महामारी के बीच पूर्वोत्तर भारत से भूकंप के तेज झटके की खबर आ रही है। असम से मिली सूचना के मुताबिक भूकंप का झटका लगभग 20 सेकंड तक रहा और ऐसा लगा कि सबकुछ खत्म हो रहा है। इस भयानक भूकंप की तीव्रता रिचर स्केल पर 6.4 मापी गई है।

विशेषज्ञों का अनुमान है कि भूकम्प के और भी झटके अभी आ सकते हैं। इस भयंकर भूकंप का असर पश्चिम बंगाल और बिहार तक महसूस किया गया है। भूकम्प का केंद्र असम के तेजपुर के पश्चिम में 43 किलोमीटर की दूरी पर सोनितपुर में 17 किलोमीटर की गहराई में बताया गया है।

असम सरकार दुसरे जिलों से भूकंप से हुए नुकसान की रिपोर्ट मंगा रही है। कुछ बिल्डिंगों के क्षतिग्रस्त होने की खबर आई है। किसी जन हानि की फिलहाल कोई सूचना नहीं है।

ये भूकंप सुबह सात बजकर 51 मिनट पर आया जिसे बिहार से अरुणाचल प्रदेश तक महसूस किया गया और लोग डर गए। भूकंप का झटका इतना तेज था कि बहुत सी जगहों पर दीवारों में दरारें पड़ गईं। वहीं कुछ जगहों पर दीवारें और छज्जे भी गिर गए। फिलहाल जान-माल के किसी तरह के नुकसान की जानकारी नहीं मिली है।

भूकंप को लेकर असम के सीएम सर्बानंद सोनोवाल ने कहा, 'असम में बड़ा भूकंप आया है। मैं सभी लोगों की कुशलता की कामना करने के साथ ही अलर्ट रहने की अपील भी करता हूं। मैं सभी जिलों से अपडेट ले रहा हूं।'



एमएलए अशोक सिंघल ने ट्वीट किया है कि भूकंप का असर ढेकियाजुली में और उसके आसपास बहुत अधिक है। यहां जमीन में बहुत चौड़ी दरार पड़ गई है। सिंघल ने ट्वीट किया है मैं प्रशासन और संबंधित अधिकारियों के साथ समन्वय कर रहा हूं ताकि लोगों को देखियाजुली को सभी प्रकार की आवश्यक सहायता प्रदान की जा सके।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story