Top

अमित शाह बोले- 2022 तक बोडोलैंड समझौते को पूरा करेगी बीजेपी

अमित शाह ने कहा कि भाजपा की सरकार नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में बनाइए हम आंदोलन मुक्त असम बनाकर देंगे।

Dharmendra Singh

Dharmendra SinghBy Dharmendra Singh

Published on 31 March 2021 10:30 AM GMT

अमित शाह बोले- 2022 तक बोडोलैंड समझौते को पूरा करेगी बीजेपी
X

गृह मंत्री अमित शाह (फोटो: सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print


गुवाहाटी: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को असम के चिरांग में एक चुनावी सभा को संबोधित किया। अमित शाह ने कहा कि बीजेपी 2022 तक बोडोलैंड समझौते को पूरा करेगी। अमित शाह ने कहा कि हमने बोडोलैंड समझौता किया और समझौते के तहत दो तिहाई वादे 6 महीने में पूरे कर दिए हैं।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस कभी भी हिंसा, आतंकवाद और आन्दोलन समाप्त करना नहीं चाहती थी। हमने डबल इंजन सरकार के माध्यम से असम को विकास के रास्ते पर ले जाने का काम किया है। शाह ने कहा कि पांच वर्ष पहले मैं इसी क्षेत्र में आया था तब मैंने कहा था कि भाजपा और असम गण परिषद की सरकार बनाकर दीजिए, हम आतंकवाद मुक्त असम बनाकर देंगे।
अमित शाह ने कहा कि भाजपा की सरकार नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में बनाइए हम आंदोलन मुक्त असम बनाकर देंगे। मैंने कहा था भाजपा और असम गण परिषद की सरकार बनाइए, हम एक विकसित असम आपको देंगे। आज तीनों वादे पूरा करके आज भाजपा आपका आशीर्वाद मांगने यहां आई है।


''मोदी जी ने असम के विकास के लिए ढेर सारे काम किए''
अमित शाह ने कहा कि हमने कहा था कि हम असम में हिंसा का युग समाप्त करके शांति स्थापित करेंगे। हमने बोडोलैंड समझौता किया है, और समझौते के तहत दो तिहाई वादे 6 महीने में पूरे कर दिए हैं। मोदी जी ने असम के विकास के लिए ढेर सारे काम किए हैं। ब्रह्मपुत्र नदी पर 6 ब्रिज बनाए, तेल क्षेत्र के विकास के लिए 46 हजार करोड़ रुपये दिए हैं। उन्होंने कहा कि असम का गौरव गैंडों का काजीरंगा के जंगलों में घुसपैठिए शिकार करते थें। हमारी सरकार ने काजीरंगा की भूमि को घुसपैठियों से मुक्त कराकर गैंडों के शिकार को रोकने का काम किया है।
अमित शाह ने कहा कि कल तो बदरुद्दीन अजमल ने कहा कि सरकार की चाबी मेरे पास है, मैं जैसे चाहूंगा वैसे सरकार चलाऊंगा, जिसको चाहूंगा उसको मंत्री बनाऊंगा। अरे बदरुद्दीन, सरकार की चाबी आपके हाथ में नहीं है, असम की जनता के हाथ में चाबी है। कान खोलकर सुन लो बदरुद्दीन, असम को घुसपैठियों का अड्डा हम नहीं बनने देंगे। आपको उखाड़ कर फेंकने का काम भाजपा करेगी।
तो वहीं गृह मंत्री ने कहा कि कामरूप के हाजो में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि आज असम भारत में हैं, तो इसका एकमात्र कारण है गोपीनाथ बोरदोलोई जी। अगर गोपीनाथ जी न होते तो आज असम भारत में न होता।


''बदरुद्दीन अजमल असम की पहचान हो सकते हैं क्या?''
अमित शाह ने कहा कि आजकल राहुल बाबा असम में पर्यटन पर निकले हैं। राहुल बाबा ने एक बात कही कि असम की पहचान बबदरुद्दीन अजमल हैं। बदरुद्दीन अजमल असम की पहचान हो सकते हैं क्या?
गृह मंत्री ने कहा कि हम हमारे मेनिफेस्टो को लेकर आये। हमने वादा किया है कि असम और नॉर्थईस्ट के बैंबू को कागज में और अन्य दूसरे उत्पादों में परिवर्तित करके असम की जनता को आत्मनिर्भर बनाने का काम करेंगे। असम के हर गांव में बैंकिंग सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। असम भारत का स्पोर्ट हब बनें, इसलिए 2038 के एशियाई खेलों के लिए गुवाहाटी को तैयार करने का काम किया जाएगा।
अमित शाह ने कहा कि कामरूप जिला और हाजों के अंदर हमने 3,740 गरीबों के मकान बनाएं हैं, जिनमें 1,200 से ज्यादा माइनॉरिटी भाइयों के मकान है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत 1,700 मकान बनाएं गए हैं।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story