×

December 2022 Vrat Tyohar: कब से शुरू हो रहा खरमास, जानें दिसंबर माह के व्रत त्योहार, यहां देखें लिस्ट

December 2022 Vrat Tyohar: बता दें 9 दिसंबर से पौष माह शुरू हो जाएगा। दरअसल पंचांग के अनुसार, मार्गशीर्ष के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि के साथ दिसंबर माह की शुरुआत हो रही है।

Anupma Raj
Report Anupma Raj
Updated on: 28 Nov 2022 1:43 AM GMT
December 2022 vrat tyohar
X

December Festival Vrat Tyohar (Image: Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

December 2022 Vrat Tyohar: साल का आखिरी माह दिसंबर जल्द शुरू होने जा रहा है। बता दें 9 दिसंबर से पौष माह शुरू हो जाएगा। दरअसल पंचांग के अनुसार, मार्गशीर्ष के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि के साथ दिसंबर माह की शुरुआत हो रही है। इस दिसंबर माह में कई प्रमुख व्रत और त्योहार आएंगे। जहां दिसंबर माह के पहले सप्ताह में मोक्षदा एकादशी व्रत होगा, भगवान विष्णु की कृपा और मोक्ष की प्राप्ति के लिए किया जाने वाला यह व्रत 3 दिसंबर, शनिवार को पड़ेगा।

आपको बता दें मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष की एकादशी को मोक्षदा एकादशी के नाम से जाना जाता है। वहीं 9 दिसंबर से पौष माह प्रारंभ हो जाएगा। पौष माह शुरू होते ही उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ती है। वहीं इस साल दिसंबर में 8 दिसबंर तक अगहन मास होगा। तो आइए देखते हैं दिसंबर के सभी व्रत त्योहार की लिस्ट:

देखें दिसंबर 2022 में पड़ने वाले व्रत त्योहार की पूरी लिस्ट (December Festivals Vrat Tyohar list)

3 दिसंबर 2022: शनिवार- मोक्षदा एकादशी

5 दिसंबर 2022: सोमवार-प्रदोष व्रत (शुक्ल)

8 दिसंबर 2022: गुरुवार- मार्गशीर्ष पूर्णिमा व्रत

11 दिसंबर 2022: रविवार- संकष्टी चतुर्थी

16 दिसंबर 2022: शुक्रवार- धनु संक्रांति (सूर्य का धनु राशि में प्रवेश)

19 दिसंबर 2022: सोमवार- सफला एकादशी

December vrat tyohar 2022

21 दिसंबर 2022: बुधवार- प्रदोष व्रत (कृष्ण), मासिक शिवरात्रि

23 दिसंबर 2022: शुक्रवार- पौष अमावस्या

25 दिसंबर 2022: रविवार- क्रिसमस

25 December को क्रिसमस डे

दरअसल क्रिसमस डे का ईसाइयों में विशेष महत्व है। ऐसा माना जाता है कि इस दिन प्रभु यीशु का जन्म हुआ था। इसी खुशी में इसे दुनियाभर में बहुत ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है। बता दें बाइबल के अनुसार, जीसस क्राइस्ट ईश्वर की संतान है, जिसने पृथ्वी पर प्यार और सद्भावना का संदेश दिया था। क्रिसमस के दिन लोग यीशु का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाते हैं।

16 दिसंबर से खर मास शुरू होगा

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, जब सूर्य देवगुरु बृहस्पति की राशि धनु और मीन में प्रवेश कर जाते हैं तो उस समय को खर मास कहते हैं। इसे मल मास से भी जाना जाता है। इस महीने में शुभ कार्य जैसे विवाह आदि करना मना होता है। वहीं इस बार सूर्य 16 दिसंबर को वृश्चिक राशि से निकलकर धनु में प्रवेश करेगा। बता दें तब ऐसा होते ही खर मास शुरू हो जाएगा जो अगले साल यानी 14 जनवरी 2023 तक रहेगा।



Anupma Raj

Anupma Raj

Next Story