गणेश चतुर्थी के लिए आपके पास बचा है एक दिन, राशि के अनुसार लगाएं भोग

2 सितंबर को गणेश चतुर्थी का त्योहार हैं और भक्तगण जोर-शोर से गणेशजी के आयोजन  में लग गए हैं। यह  पर्व 12 दिन तक चतुर्थी से अनन्त चतुर्दशी तक रहता है। इस दौरान कई तरह के भोग चढ़ाए जाते हैं। इससे गणपति प्रसन्न होते हैं और उनका आशीर्वाद मिलता हैं।

जयपुर : 2 सितंबर को गणेश चतुर्थी का त्योहार हैं और भक्तगण जोर-शोर से गणेशजी के आयोजन  में लग गए हैं। यह  पर्व 12 दिन तक चतुर्थी से अनन्त चतुर्दशी तक रहता है। इस दौरान कई तरह के भोग चढ़ाए जाते हैं। इससे गणपति प्रसन्न होते हैं और उनका आशीर्वाद मिलता हैं। इस बार अगर गणेश जी को प्रसन्न करना है तो राशि के अनुसार भगवान को भोग लगाएं।

लखनऊ: गणेश उत्सव को लेकर मूर्तियों को अंतिम रूप देता कलाकार

मेष इस राशि के जातकों को गणेश चतुर्थी के दिन छुहारे और लड्डूका भोग लगाना चाहिए।
वृष इस राशि के लोगों को नारियल या मिश्री से बने लड्डू का भोग भगवान को लगाना चाहिए।
मिथुन इस राशि के जातकों को मूंग के लड्ड का भोग लगाना चाहिए।
कर्क इस राशि के जातकों को मक्खन, खीर या लड्डू से भगवान गणेश को प्रसन्न करना चाहिए।
सिंह इस राशि के जातकों को गुड़ के मोदक और छुहारे का भोग गणेशजी को लगाना चाहिए।
कन्या इस राशि के जातकों को हरे फल या किशमिश का भोग लगाना चाहिए।

हरतालिका व्रत: इस दिन है तीज, जानिए किस मुहूर्त में करें व्रत और किसमें पारण

तुला इस राशि के जातक को लड्डू और केला गणेश जी को अर्पित करना चाहिए।
वृश्चिक इस राशि के जातक छुहारा-गुड़ के लड्डू प्रसाद भगवान को चढ़ाएं।
धनु इस राशि के जातक को गणेशजी को मोदक व केले का भोग लगाना चाहिए।
मकर इस राशि के जातक को भगवान गणेश को तिल के लड्डू का भोग लगाना चाहिए।
कुंभ इस राशि के जातक को भगवान गणेश को गुड़ के लड्डू अर्पित करना चाहिए।
मीन इस राशि के जातक को गणेश चतुर्थी पर बेसन के लड्डू, केला और बादाम का भोग लगाना चाहिए।