ससुराल में मिलेगा बेटी को प्यार व सम्मान, जब करेंगे विदाई के समय ये सारे काम

जब किसी लड़के-लड़की शादी होती है तो हर घर में खुशी का माहौल होता है। खासकर लड़कों के घरों में जहां बहू के रुप में शादी के बाद नए सदस्य की एंट्री होती है। वहीं उस दुल्हन के घर में शादी के बाद उदासी छा जाती है। जहां से उसकी विदाई होती है।

जयपुर: जब किसी लड़के-लड़की शादी होती है तो हर घर में खुशी का माहौल होता है। खासकर लड़कों के घरों में जहां बहू के रुप में शादी के बाद नए सदस्य की एंट्री होती है। वहीं उस दुल्हन के घर में शादी के बाद उदासी छा जाती है। जहां से उसकी विदाई होती है। किसी कन्या की विदाई होती है तो पूरे परिवार का माहौल दुख से भरा होता है। हर सदस्य की ऑखें नम होती है। खासकर माता-पिता का जो ये सोच कर परेशान होते है कि उसकी बेटी का ससुराल  कैसा होगा। सुख मिलेगा या दुःख।

ये उपाय…

बेटी की विदाई के समय ससुराल जाते वक्त दुल्हन अपने घर से एक नारियल ले जाए और उसे अपने पूजा घर में स्थापित करके नियमित पूजा करें तो ऐसा करने से पति-पत्नी में प्रेम बना रहता है।

पहली बार शादी के बाद जब कन्या ससुराल जाये तो अपने घर 7 हल्दी की गांठ ले जाये  तो फिर एक पीले कपड़े में बॉधकर अपनी अलमारी में रख लें। ये उपाय करने से धन की बरक्कत बनी रहती है और ससुराल में मान-सम्मान बना रहता है।

यह पढ़ें… तुलसी विवाह पर जानिए भगवान विष्णु के श्राप की कथा, इस दिन क्या करें, क्या न करें

7 साबुत हल्दी की गांठे, पीतल का टुकड़ा, थोड़ा सा गुड़ लेकर अपने ससुराल के दरवाजे पर डाल दें तो ससुराल वाले कन्या से प्रेम करते है और मान-सम्मान करते है।

कन्या की विदाई के समय एक लोटे में गंगाजल, हल्दी, एक तांबे का सिक्का कन्या के सिर पर से 7 बार उतारकर किसी निर्जन स्थान पर फेंक दें तो कन्या को ससुराल में सुख मिलता है।

यह पढ़ें…देव दीपावली की भव्यता पर लग सकता है ग्रहण, जिला प्रशासन ने डाला अड़ंगा

विदाई के समय कन्या अपनी मां से थोड़ा सिन्दूर ले और ससुराल में उसी सिन्दूर को अपनी मॉग में लगाएं तो सौभाग्य में वृद्धि होती है।

साबुत काले उड़द में हरी मेंहदी मिलाकर जिस दिशा में वर-वधु का घर हो, उस दिशा में फेंक दे। ससुराल में प्रेम बना रहता है।