एक माह तक वर्जित है मांगलिक काम, घर में ना करें कोई भी धार्मिक संस्कार

Published by suman Published: March 16, 2019 | 5:42 am

जयपुर:15 मार्च से खरमास शुरू हो रहा है। हिंदू धर्म में ऐसी मान्यता है कि मलमास या खरमास का महीना शुभ नहीं होता है। इस दौरान कोई भी मांगलिक कार्य नहीं किए जाते। हिंदू धर्म में इस दौरान सभी पवित्र काम वर्जित माने गए हैं. माना जाता है कि यह मास मलिन होता है. इसलिए इस मास के दौरान हिंदू धर्म के विशिष्ट व्यक्तिगत संस्कार जैसे नामकरण, यज्ञोपवीत, विवाह और सामान्य धार्मिक संस्कार जैसे गृहप्रवेश आदि आमतौर पर नहीं किए जाते हैं. मलिन मानने के कारण ही इस मास का नाम मलमास पड़ गया है.इस दौरान कौन से काम नहीं करने चाहिए

खरमास में शादी जैसे कोई भी शुभ काम नहीं किए जाते। कहा जाता है कि इस दौरान शुभ काम करने से उसका फल नहीं मिलता।

इस महीने किसी संपत्ति अथवा भूमि की खरीद भी बेहद अशुभ होती है।  इस महीने के दौरान इससे बचना चाहिए।

16मार्च: किस राशि को होगा धन लाभ, किसकी होगी हानि, बताएगा राशिफल

खरमास की शुरुआत के बाद नया वाहन खरीदने से भी बचना चाहिए।

खरमास के प्रारंभ होने के बाद घर या किसी अन्य भवन का निर्माण पूर्णतः वर्जित है। इस दौरान भवन निर्माण सामग्री लेना भी अशुभ होता है.

विवाह और उपनयन जैसे शुभ संस्कार भी इस दौरान पूर्णतः वर्जित रहते हैं। इसके अलावा गृह प्रवेश जैसे कार्य भी इस दौरान नहीं होने चाहिए।