×

Adhir Ranjan Chowdhury statement: ममता बनर्जी पर चौधरी का बड़ा हमला, भतीजे अभिषेक को ईडी से बचाने के लिए मोदी की दलाली का आरोप

Adhir Ranjan Chowdhury statement: कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुश करने के लिए ममता बनर्जी विपक्ष को कमजोर करने की साजिश में जुटी हुई है।

Anshuman Tiwari
Published on 16 Dec 2021 5:13 AM GMT
Adhir  Ranjan Chowdhury - Mamata Banerjee
X

अधीर रंजन चौधरी-मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फोटो : सोशल मीडिया ) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Adhir Ranjan Chowdhury statement: देश में 2024 की सियासी जंग से पहले कांग्रेस (Congress) और पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के बीच तकरार और तीखी होती जा रही है। ममता कांग्रेस को दरकिनार करके खुद को विपक्षी चेहरे के रूप में स्थापित करने की कोशिश में जुटी हुई है। इसके लिए उन्होंने विपक्षी नेताओं से भेंट-मुलाकात का सिलसिला बढ़ा दिया है। हाल के दिनों में ममता ने कांग्रेस को भारी झटका देते हुए कई नेताओं को अपनी पार्टी तृणमूल कांग्रेस (TMC) में शामिल किया है। ऐसे में कांग्रेस ने भी ममता के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury statement) ने आरोप लगाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) को खुश करने के लिए ममता बनर्जी विपक्ष को कमजोर करने की साजिश में जुटी हुई है। चौधरी ने ममता पर तीखा आरोप लगाते हुए कहा कि सीधे शब्दों में कहा जाए तो ममता बनर्जी पीएम मोदी की दलाली करने में लगी हुई हैं। चौधरी ने कहा कि ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी प्रवर्तन (Abhishek Banerjee ) निदेशालय (ईडी) के निशाने पर हैं और उनके खिलाफ जांच पड़ताल चल रही है। भतीजे को बचाने के लिए ही ममता विपक्ष को कमजोर करके पीएम मोदी को खुश करना चाहती हैं।

ईडी से अभिषेक को बचाना है मकसद

दरअसल विपक्ष के चेहरे को लेकर कांग्रेस और टीएमसी का विवाद (Congres-TMC ka vivad) दिन-प्रतिदिन गहराता जा रहा है। हाल के दिनों में ममता ने कांग्रेस पर कई बार हमला बोला है। उन्होंने इशारे में कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को भी निशाना बनाया है। अभी हाल में अपने मुंबई दौरे के समय ममता ने कहा था कि यदि कोई अधिकांश समय विदेश में रहता है और विपक्ष को मजबूर बनाने की कोशिश नहीं करता तो इसके लिए मैं क्या कर सकती हूं। मैं अपना दायित्व पूरा करते हुए विपक्ष को मजबूत बनाने की कोशिश में जुटी हुई हूं।

ममता के इन बयानों के बाद अब कांग्रेस ने भी ममता के खिलाफ बैटिंग शुरू कर दी है। पश्चिम बंगाल से सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी ने ममता बनर्जी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों में खेलने का आरोप लगाया है। चौधरी ने कहा कि ममता का मकसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुश करना है क्योंकि उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी ईडी के निशाने पर हैं। वे प्रधानमंत्री को खुश करके अपने भतीजे को ईडी से बचाना चाहती हैं। उन्हें पता है कि पीएम मोदी के खुश होने पर ही उनका भतीजा भविष्य की झंझटों से बच सकता है।

कांग्रेस ने भी खोल दिया मोर्चा

चौधरी के इस बयान को कांग्रेस की ओर से ममता को तीखा जवाब माना जा रहा है। ममता ने हाल में अपने मुंबई दौरे के दौरान यूपीए का अस्तित्व मानने से इनकार कर दिया था। उनका कहना था कि यूपीए का अब कोई अस्तित्व नहीं रह गया है। इसलिए पीएम मोदी और भाजपा के खिलाफ देश में विपक्ष की ओर से कोई दूसरा वैकल्पिक मोर्चा खड़ा करने की जरूरत है।

उनका यह भी कहना था कि पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव की तरह वे 2024 में देश भर में भाजपा की पराजय देखने की इच्छुक हैं। चौधरी के बयान से साफ हो गया है कि अब कांग्रेस भी ममता को तीखा जवाब देने में पीछे नहीं हटेगी।

सोनिया ने टीएमसी को नहीं भेजा न्योता

राज्यसभा के 12 सांसदों के निलंबन के मुद्दे पर हाल में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की ओर से अपने आवास पर बुलाई गई बैठक में भी टीएमसी को न्योता नहीं भेजा गया था। इस बैठक में एनसीपी के मुखिया शरद पवार, नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष डॉक्टर फारुख अब्दुल्ला, शिवसेना नेता संजय राउत और द्रमुक नेता टी बालू समेत कई विपक्षी नेताओं ने हिस्सा लिया था मगर बैठक में टीएमसी को आमंत्रित नहीं किया गया। संसद के मौजूदा शीतकालीन सत्र में टीएमसी ने कांग्रेस से अलग रणनीति अपना रखी है और इससे साफ हो गया है कि टीएमसी और कांग्रेस के बीच विवाद लगातार गहराता जा रहा है।

Monika

Monika

Next Story