Top

पश्चिम बंगाल में हिंसा की घटनाओं पर सियासी माहौल गरमाया, भाजपा का ममता पर बड़ा हमला

भाजपा सांसद ने लिखा कि बंगाल में हिंसा की पटकथा पहले ही तैयार की जा चुकी थी। टीएमसी ने पहले से ही इसकी तैयारी कर रखी थी।

Anshuman Tiwari

Anshuman TiwariWritten By Anshuman TiwariShreyaPublished By Shreya

Published on 4 May 2021 6:46 AM GMT

पश्चिम बंगाल में हिंसा की घटनाओं पर सियासी माहौल गरमाया, भाजपा का ममता पर बड़ा हमला
X

नेताओं की फाइल फोटो (साभार- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव (West Bengal Elections Result 2021) में तृणमूल कांग्रेस (TMC) की प्रचंड जीत के बाद हो रही हिंसा की घटनाओं पर सियासी माहौल गरमा गया है। भाजपा (BJP) ने हिंसा की घटनाओं को लेकर तृणमूल कांग्रेस की मुखिया ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) पर बड़ा हमला बोला है। भाजपा का कहना है कि बंगाल में हिंसा की यह पटकथा पहले ही लिखी जा चुकी थी।

दिल्ली से भाजपा के सांसद प्रवेश साहिब सिंह (Parvesh Sahib Singh) ने विवादित बयान देते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस के नेताओं को यह नहीं भूलना चाहिए कि उन्हें भी दिल्ली आना है। इस बीच पश्चिम बंगाल के विभिन्न इलाकों से हिंसा की खबरें लगातार आ रही हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के पश्चिम बंगाल दौरे (J.P. Nadda Bengal Visit) से सियासी माहौल गरमाने के आसार दिख रहे हैं।

अनिल बलूनी (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

पहले से ही थी हमले की तैयारी

भाजपा सांसद अनिल बलूनी (Anil Baluni) ने तृणमूल कांग्रेस के चुनाव जीतने के बाद बंगाल में हिंसा की घटनाओं पर गहरी नाराजगी जताई है और उन्होंने इन घटनाओं के लिए तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा कि इन हमलों की स्क्रिप्ट पहले ही लिखी जा चुकी थी। उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) का एक वीडियो भी शेयर किया है।

वीडियो शेयर करते हुए अनिल बलूनी ने अपने ट्वीट में लिखा कि बंगाल में हिंसा की पटकथा पहले ही तैयार की जा चुकी थी। ममता बनर्जी ने मार्च में खुद ही कहा था कि सेंट्रल फोर्सेज तो एक दिन चली जाएंगी। फिर कौन बचाएगा। उसके बाद तो हम ही होंगे। बलूनी ने कहा कि इससे साफ है कि बंगाल में हिंसा का जो खेल खेला जा रहा है, उस बाबत टीएमसी ने पहले ही से तैयारी कर रखी थी और यह बहुत ही शर्मनाक है।

टीएमसी नेता याद रखें उन्हें भी दिल्ली आना है

पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट से भाजपा सांसद प्रवेश साहिब सिंह ने कहा कि टीएमसी के गुंडों ने चुनाव जीतते ही पश्चिम बंगाल में अराजकता का माहौल बना दिया है और हमारे कार्यकर्ताओं की जान ली जा रही है। भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं पर हमले किए जा रहे हैं और उनकी गाड़ियां तोड़ी जा रही हैं।

टीएमसी के उपद्रवी तत्व भाजपा कार्यकर्ताओं और समर्थकों के घरों और ठिकानों पर आगजनी की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं, लेकिन टीएमसी के सांसदों, मुख्यमंत्री और विधायकों को यह नहीं भूलना भूलना चाहिए कि उन्हें भी दिल्ली आना है। इसे चेतावनी के तौर पर समझ लेना। भाजपा सांसद ने कहा कि चुनाव में हार जीत होती रहती है मगर इस तरह मर्डर नहीं किया जाता।

हमले के पीछे ममता का हाथ

भाजपा नेता और पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने इन हमलों के पीछे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का हाथ बताया है। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी की शह पर ही भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने इस बाबत केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को सूचना दे दी है और गृह मंत्रालय की ओर से पश्चिम बंगाल सरकार से रिपोर्ट तलब की गई है। उन्होंने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी इसी सिलसिले में पश्चिम बंगाल पहुंच रहे हैं।

हमले के विरोध में भाजपा देगी धरना

भाजपा ने पश्चिम बंगाल में पार्टी कार्यकर्ताओं पर हो रहे हमलों का व्यापक विरोध करने का फैसला किया है और इसे लेकर देशव्यापी धरना देने का फैसला किया गया है। भाजपा की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि 5 मई को पार्टी कार्यकर्ता हर मंडल में इस हिंसा के विरोध में धरना देंगे। इस धरने के दौरान कोविड-19 से संबंधित प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया जाएगा।

जगदीप धनखड़ (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

राज्यपाल ने अफसरों को तलब किया

इस बीच राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने हिंसा की घटनाओं पर पुलिस महानिदेशक और कोलकाता के पुलिस कमिश्नर को तलब कर घटनाओं की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि चुनावी नतीजे के बाद राज्य में हो रही व्यापक हिंसा और हत्या की घटनाएं खतरनाक स्थिति का संकेत हैं। उन्होंने पुलिस अफसरों से कानून व्यवस्था बनाए रखने को कहा है।

हिंसा के बाद घर में बिखरा सामान (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

राज्य के विभिन्न हिस्सों से हिंसा की खबरें

इस बीच राज्य के विभिन्न हिस्सों से हिंसा, आगजनी और लूट की घटनाओं की खबरें मिल रही हैं। नॉर्थ 24 परगना जिले के भागपाड़ा में बीजेपी समर्थकों की कुछ दुकानों पर हमला करके तोड़फोड़ की गई और इस दौरान बम भी फेंके गए। एक दुकानदार ने इस बाबत जानकारी देते हुए बताया कि टीएमसी के उपद्रवियों ने उनकी पूरी दुकान लूट ली। इस दौरान करीब दस बम फेंके गए। कूचबिहार के सीतलकुची से भी हिंसा की खबरें मिली हैं

नंदीग्राम में ममता बनर्जी की हार से बौखलाए टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बीजेपी के ऑफिस में जमकर तोड़फोड़ की और बाद में विजयी उमेदवार शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर भी हमला किया गया। हल्दिया में भी हिंसा और मारपीट की घटनाओं की खबरें हैं। भाजपा नेताओं का कहना है कि इन घटनाओं के बाद हम मूकदर्शक नहीं बने रह सकते और टीएमसी के गुंडों को मनमानी नहीं करने दी जाएगी।

Shreya

Shreya

Next Story