Top

भाजपा को ममता ने दिया तगड़ा झटका, TMC में वापस लौटे मुकुल राय

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव नतीजे के बाद से राज्य में राजनीतिक हिंसा का दौर शुरू हो गया था। साथ ही उलट पुलट का दौर भी शुरू हो गया है।

Mukul Roy
X

बीजेपी नेता मुकुल राय (फोटो साभार-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोलाकाता: पश्चिम बंगाल में सियासी समीकरण पल-पल बदलता नजर आ रहा है। विधानसभा चुनाव नतीजे के बाद से राज्य में राजनीतिक हिंसा का दौर शुरू हो गया था। बीजेपी के कई कार्यकर्ताओं पर टीएमसी समर्थकों की तरफ से जानलेवा हमले भी हुए। वहीं टीएमसी से बीजेपी में आए नेता अब फिर से पार्टी में वापसी करने की फिराक में है।

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव हराने के बाद ममता ने भाजपा को एक और झटका देते हुए भाजपा के बड़े नेता मुकुल रॉय को फिर से पार्टी में शामिल करवा लिया है। मुकुल की घर वापसी के लिए अपने बेटे सुभ्रांशु के साथ तृणमूल कांग्रेस के मुख्यालय पहुंचे और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी से मुलाकात की। दोपहर साढ़े तीन बजे उन्होंने टीएमसी की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान अभिषेक बनर्जी भी मौजूद रहे।

जानकारी के अनुसार टीएमसी के नेताओं के साथ कोलकाता में आज उनकी बैठक होने वाली है और इसी बैठक में उनको पार्टी में शामिल कराये जाने के संकेत दिए जा रहे थे।

बताते चलें कि इससे पहले टीएमसी के वरिष्ठ नेता और सांसद सौगत रॉय ने भी मुकुल रॉय के पार्टी में वापसी के संकेत दिए थे। उन्होंने मुकुल राय की तारीफ करते हुए कहा था कि वह भले ही पार्टी छोड़कर गए हैं, लेकिन सीएम ममता बनर्जी के खिलाफ कभी कुछ नहीं कहा।

सौगत रॉय के इस बयान के बाद यह कयासबाजी तेज हो गई कि मुकुल रॉय के जल्द ही बीजेपी छोड़कर टीएमसी में आ सकते हैं। मीडिया खबरों की मानें तो मुकुल राय सीएम ममता बनर्जी की मौजूदगी में टीएमसी में वापसी कर सकते हैं। ऐसे में राजनीतिक जानकारों की मानें तो मुकुल राय की टीएमसी में वापसी बीजेपी के लिए बड़ा झटका माना जाएगा। क्योंकि बंगाल में बीजेपी के लिए वह काफी अहम माने जाते हैं। गौरतलब है कि मुकुल रॉय ने वर्ष 2017 में टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के दौरान टीएमसी के नेताओं को तोड़कर बीजेपी में शामिल कराने में उनका अहम रोल रहा। लेकिन अब उनका ही टीएमसी में वापसी करना बीजेपी के लिए बड़ा झटका है।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story