×

Bihar : स्प्रिट से बनाई गई थी जहरीला शराब, गोपालगंज में 50 जगहों पर ताबड़तोड़ छापे, 19 गिरफ्तार

गोपालगंज और पश्चिमी चंपारण जिले में बीते दो दिनों में जहरीली शराब पीने से करीब 24 लोगों की मौत हो गई। जबकि, पिछले 15 दिनों के भीतर राज्य में जहरीली शराब की वजह से अब तक 40 लोगों की मौत के दावे किए जा रहे हैं।

aman
Published on 6 Nov 2021 6:38 AM GMT
Crime news
X

छापेमारी में देशी कच्ची शराब बनाने का सामान बरामद (Concept Image) pic(social media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बिहार में शराबबंदी के सरकारी दावों की पोल तब खुल गई जब गोपालगंज और पश्चिमी चंपारण जिले में बीते दो दिनों में जहरीली शराब पीने से करीब 24 लोगों की मौत हो गई। जबकि, पिछले 15 दिनों के भीतर राज्य में जहरीली शराब की वजह से अब तक 40 लोगों की मौत के दावे किए जा रहे हैं। वहीं, इन घटनाओं पर देर से ही सही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सख्ती दिखाई और दोषियों पर कार्रवाई के आदेश दिए।

सीएम नीतीश कुमार ने शुक्रवार को राज्य में जहरीली शराब से हो रहीं मौतों के संबंध में एक उच्च स्तरीय बैठक की। मीटिंग में सीएम ने संबंधित अधिकारियों को जहरीली शराब से हुई घटनाओं के संबंध में सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए। इतना ही नहीं, उन्होंने उच्च अधिकारियों को दोषी अफसरों के खिलाफ कार्रवाई करने को भी कहा।

डीएम बोले- FSL रिपोर्ट से होगी पुष्टि

इस घटना के बारे में गोपालगंज के डीएम डॉ. नवल किशोर चौधरी ने कहा, कि उनके जिले में 11 लोगों की मौत हुई है। उन्होंने बताया, अभी तक जो साक्ष्य समाने आए हैं उससे पता चलता है कि स्प्रिट के जरिए शराब बनाया जा रहा था। एफएसएल (FSL) रिपोर्ट आने के बाद ही हम पुख्ता तौर पर जानकारी दे सकते हैं। उन्होंने कहा, स्थानीय लोगों के बयान के आधार पर ये मौतें जहरीली शराब से हुई है। इसकी आधिकारिक तौर पर अभी पुष्टि नहीं की जा सकती है।

गोपालगंज जिले में अब तक 50 जगह छापेमारी

वहीं, गोपालगंज के सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (SP) आनंद कुमार ने बताया, कि बीते 24 घंटों से जिले में शराब के विरुद्ध अभियान तेज गति से चलाया गया है। 50 से अधिक जगहों पर अब तक छापेमारी हो चुकी है। जिसमें 19 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। साथ ही साथ 270 लीटर देशी शराब भी जब्त की गई है। छापेमारी में 6 वाहनों को भी जब्त किया गया है।

पुलिस की लापरवाही सामने आई तो होगी कार्रवाई

एसपी आनंद कुमार ने कहा, इस पूरे मामले की जांच की जा रही है। जांच के दौरान अगर, किसी भी पुलिसकर्मी की लापरवाही सामने आएगी तो हम उसके खिलाफ कार्रवाई करेंगे। अभी तक कुछ गिरफ्तारी हुई है। इसमें जितने लोग शामिल होंगे उन्हें हम जल्द ही गिरफ्तार कर लेंगे।

aman

aman

Next Story