×

Bihar: जनता दरबार में CM नीतीश से बोला रिटायर्ड फौजी- रिटायरमेंट के बाद खरीदी जमीन, दबंगों ने कर लिया कब्ज़ा

जनता दरबार में सीएम नीतीश ने राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे 89 लोगों की समस्याएं सुनीं। कई फरियादियों की ऐसी कहानी थी जिसे सुन सीएम ने अधिकारियों तो तुरंत कार्रवाई के आदेश दिए।

Network
Newstrack Network
Updated on: 4 July 2022 3:00 PM GMT
bihar cm nitish kumar listen to complaints of 50 complainant in janta ke darbar me mukhyamantri
X

'जनता के दरबार में मुख्यमंत्री' कार्यक्रम में CM नीतीश कुमार

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Nitish Kumar Janta Darbar : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) सोमवार (04 जुलाई 2022) को 4 देशरत्न मार्ग स्थित मुख्यमंत्री सचिवालय परिसर में आयोजित जनता के दरबार में 'मुख्यमंत्री कार्यक्रम' (Mukhyamantri Karyakram) में शामिल हुए। जनता के दरबार में मुख्यमंत्री नीतीश ने राज्य के विभिन्न जिलों से पहुंचे 89 लोगों की समस्याओं को सुना। संबंधित विभागों के अधिकारियों को समाधान के लिए समुचित कार्रवाई के निर्देश भी दिए।

आज 'जनता के दरबार' में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में सामान्य प्रशासन विभाग, गृह विभाग, राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग, मद्य निषेध, उत्पाद एवं निबंधन विभाग, निगरानी विभाग, खान एवं भूतत्व विभाग, निर्वाचन विभाग, मंत्रिमंडल सचिवालय विभाग से संबंधित मामलों पर सुनवाई हुई।

भू-माफिया ने किया जमीन पर कब्जा, दे रहे धमकी

जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में गोपालगंज से आए एक व्यक्ति ने मुख्यमंत्री से जमीन माफियाओं की शिकायत की। फरियादी ने कहा, कि 'गोपालगंज बस स्टैंड के पास हमारी जमीन है। उस पर भू-माफियाओं ने कब्जा कर लिया है। जब हमने विरोध जताया तो उन लोगों द्वारा हमें जान से मारने की धमकी दी जा रही है।' मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

घर के दरवाजे पर हुई थी बच्चे की हत्या, मगर..

मुजफ्फरपुर से आए एक अन्य फरियादी ने गुहार लगाते हुए कहा कि, 'मेरे घर के दरवाजे पर ही वर्ष 2018 में मेरे बच्चे की हत्या कर दी गई। अब तक मुझे न्याय नहीं मिल पाया है। मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।'

मुजफ्फरपुर के दो बुजुर्गों की व्यथा

वहीं, एक रिटायर्ड फौजी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से गुहार लगाते हुए कहा कि, रिटायरमेंट के बाद मुजफ्फरपुर में हमने जमीन खरीदी। उस जमीन पर साल 2013 से असामाजिक तत्वों ने कब्जा कर लिया। इसके अलावा, मेरी खरीदी गई दूसरी जमीन पर भी दबंग जाने नहीं दे रहे। आए दिन धमकी देते हैं। मुख्यमंत्री ने राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग (Revenue and Land Reforms Department) को समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया। वहीं, मुजफ्फरपुर जिले के मुसहरी से आई एक महिला ने मुख्यमंत्री से शिकायत करते हुए कहा कि 'मेरी दुकान का किरायेदार शराब पीकर आए दिन हम लोगों को मारता-पीटता है। दुकान खाली करने के लिए बोलती हूं तो गाली-गलौज और मारपीट करता है।' मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग के अधिकारी को मामले की जांच कर उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

जमीन कब्जाने के कई मामले

खगड़िया से आए एक व्यक्ति ने मुख्यमंत्री से शिकायत करते हुए कहा कि, मेरे पैतृक भूमि को भू-माफियाओं द्वारा कब्जा कर लिया गया है। जब हमने प्रशासनिक सहायता ली तो आरोपी जेल चले गए। जब छूटकर आए तो वे लोग मेरे खिलाफ साजिश रच रहे हैं। वहीं, शेखपुरा आए एक फरियादी ने कहा कि गलत जमाबंदी की जा रही है। इसकी शिकायत करने के बाद भी किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

अधिकारी एजेंट के जरिये पैसे की मांग करती हैं

भोजपुर जिला से आए एक शख्स ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाते हुए कहा कि एक महिला अंचलाधिकारी अक्सर जमाबंदी रद्द करने की बात करती हैं और अपने एक एजेंट के जरिए पैसे की मांग करती हैं। वहीं, सारण से आए एक फरियादी ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाते हुए कहा, कि मेरी जमीन का सरकार द्वारा अधिग्रहण किया गया है। लेकिन, अभी तक पैसों का भुगतान नहीं किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

बेटी का अपहरण कर गलत वीडियो वायरल, कोई कार्रवाई नहीं

सारण से आए एक फरियादी ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाते हुए कहा कि, मेरी बच्ची का अपहरण कर उसका गलत वीडियो बनाकर आरोपी द्वारा वायरल किया जा रहा है। इसकी शिकायत हमने कई बार संबंधित अधिकारियों से की, मगर इस पर कोई कार्रवाई अब तक नहीं हुई है।' मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को अविलंब उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

पुस्तकालय को दान दी जमीन पर दबंगों का कब्ज़ा

दरभंगा से आए एक फरियादी ने कहा कि हमारे पूर्वज के द्वारा पांच कट्ठा जमीन पुस्तकालय के लिए दी गयी थी लेकिन कुछ दबंगों के द्वारा उस पर कब्जा करके मवेशी को बांधा जा रहा है। इसकी शिकायत करने कोई कार्रवाई नहीं हुई है। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया। बावजूद, बेगूसराय से आए एक व्यक्ति ने सार्वजनिक पोखर को अतिक्रमण मुक्त कराने की मांग की।

महादलितों के आने-जाने वाला रास्ता अवरुद्ध

वहीं, सारण जिला के गरखा से आए एक व्यक्ति ने शिकायत करते हुए कहा कि महादलितों के आने-जाने वाले रास्ते को अवरुद्ध कर दिया गया है। जिससे आवागमन में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

कार्यक्रम में ये उपस्थित

'जनता के दरबार में मुख्यमंत्री' कार्यक्रम में राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामसूरत कुमार, मद्य निषेध, उत्पाद एवं निबंधन मंत्री सुनील कुमार, खान एवं भूतत्व मंत्री जनक राम, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, पुलिस महानिदेशक एस.के. सिंघल, संबंधित विभागों के अपर मुख्य सचिव/प्रधान सचिव/सचिव, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ. एस. सिद्धार्थ, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह, पटना के जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह तथा वरीय पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो उपस्थित थे।

aman

aman

Next Story