×

Bihar News: पूर्व सांसद और बाहुबली आनंद मोहन की पैरोल खत्म 15 दिन बाद वापस जेल, समर्थक बोले जल्द रिहा करे सरकार

Bihar News: पूर्व सांसद और बाहुबली आनंद मोहन की पैरोल आज यानी आज को खत्म हो जाएगी।आज वापस आनंद मोहन सहरसा जेल लौट जाएंगे। 15 दिन पहले आनंद मोहन अपनी बीमार मां और बेटी की सगाई के कारण कोर्ट के आदेश पर 15 दिन के पैरोल पर बाहर आए थे।

Network
Report Network
Published on: 20 Nov 2022 5:37 AM GMT
Bihar News
X

पूर्व सांसद और बाहुबली आनंद मोहन अपने परिवार के साथ (न्यूज नेटवर्क)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Bihar News: पूर्व सांसद और बाहुबली आनंद मोहन की पैरोल आज यानी रविवार को खत्म हो जाएगी। कोर्ट से आदेश मिलने के बाद 15 दिन का समय आज पूरा हो रहा है। आज वापस आनंद मोहन सहरसा जेल लौट जाएंगे। 15 दिन पहले आनंद मोहन अपनी बीमार मां और बेटी की सगाई के कारण कोर्ट के आदेश पर 15 दिन के पैरोल पर बाहर आए थे। इस दौरान वह अपनी मां से मिले। इसके बाद बेटी की सगाई में शामिल हुए। पटना में आनंद मोहन की बेटी की सगाई पर कार्यक्रम आयोजित हुई थी। इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव समेत कई गणमान्य नेता पहुंचे थे।

यह सगाई समारोह काफी चर्चा में रहा था। इसके बाद उन्होंने पत्नी लवली आनंद और बेटे चेतन आनंद का जन्मदिन मनाया। सहरसा जेल पहुंचने से पहले उन्होंने मीडिया से बातचीत की और कहा कि जल्द ही सब ठीक हो जाएगा। बेटे चेतन आनंद की भी शादी तय कर दी गई है अगले साल मई में उनकी शादी होगी। पैरोल के दौरान बिताए गए दिन के बारे में मीडिया द्वारा पूछने पर आनंद मोहन ने कहा कि पिछला 15 दिन काफी खास रहा। इस बीच तीन मौके मेरे लिए अहम रहे। एक 7 नवंबर को मेरी बेटी की सगाई हुई, फिर 9 नवंबर को मेरी पत्नी लवली आनंद का जन्मदिन और 20 नवंबर को मेरे बेटे चेतन आनंद का जन्मदिन मनाया।

वही आनंद मोहन के समर्थकों का कहना है कि सरकार जल्द से जल्द उनकी रिहाई करवा दें क्योंकि उनकी सजा पहले ही पूरी हो चुकी है। सरकार से अनुरोध है कि वह आनंद मोहन को जेल से रिहा करवा दे। आपको बता दें कि 5 दिसंबर 1994 को गोपालगंज के तत्कालीन डीएम जी कृष्णैया की हत्या भीड़ द्वारा कर दी गई थी। इसी मामले को लेकर निचली अदालत ने 2007 में पूर्व सांसद आनन्द मोहन को मौत की सजा सुनाई गई थी। वहीं दिसंबर 2008 में पटना हाइकोर्ट ने मौत की सजा को उम्र कैद में बदल दिया था। इसके बाद से डीएम जी कृष्णैया हत्या कांड मामले को लेकर मंडल कारा सहरसा में बंद हैं।

Prashant Dixit

Prashant Dixit

Next Story