×

Bussiness News : एक नए प्रोजेक्ट कर साझेदारी में काम कर रही है कावासाकी और यामाहा, जानें इसके बारे में

Bussiness News : इलेक्ट्रिक वाहनों ( Electric vehicle) की बढ़ती मांग के बीच दोपहिया वाहनों के लिए हाइड्रोजन इंजन (hydrogen engine banane ka faisla) बनाने का फैसला किया है।

Bussiness today live news
X

Bussiness News : एक नए प्रोजेक्ट कर साझेदारी में काम कर रही है कावासाकी और यामाहा, जानें इसके बारे में (Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Bussiness News : कावासाकी (Kawasaki) और यामाहा (Yamaha) ने दुनिया भर में इलेक्ट्रिक वाहनों ( Electric vehicle) की बढ़ती मांग के बीच दोपहिया वाहनों के लिए हाइड्रोजन इंजन (hydrogen engine banane ka faisla) बनाने का फैसला किया है। वहीं इस नए हाइड्रोजन इंजन (hydrogen engine) को इलेक्ट्रिक वाहन (Electric vehicle) के विकल्प के रूप में देखा जा रहा है, जो शून्य-उत्सर्जन मोटरसाइकिलों (Motorcycle) का समर्थन करता है। इसी के मद्देनजर इस साझेदारी को हाइड्रोजन इंजन के विस्तार के रूप में भी देखा जा रहा है। आइये जानें इससे जुड़ी विस्तृत जानकारी-

समझौते में शामिल होंगी पांच कंपनियां

कावासाकी हेवी इंडस्ट्रीज ( Kawasaki Heavy Industries) के अलावा यामाहा मोटर कंपनी (Yamaha Motor Company), सुबारू कॉर्पोरेशन (Subaru Corporation), टोयोटा मोटर कॉर्पोरेशन (Toyota Motor corporation) और माज़दा मोटर कॉर्पोरेशन (Mazda Motor Corporation) ने भी पूर्ण शून्य उत्सर्जन स्तर हासिल करने के उद्देश्य से इस समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। इसके तहत कावासाकी हेवी इंडस्ट्रीज 2010 से आपूर्ति श्रृंखला को बिजली देने के लिए हाइड्रोजन को ऊर्जा स्रोत के रूप में विकसित कर रही है। वहीं दूसरी ओर यामाहा अपने दोपहिया वाहनों में भविष्य के उपयोग हेतु हाइड्रोजन से चलने वाले इंजन विकसित करने की योजना बना रही है।

2050 तक शुद्ध-शून्य उत्सर्जन हासिल करने का लक्ष्य

दोनों के बीच हुए इस समझौते का प्रमुख लक्ष्य 2050 तक पूर्ण रूप से शून्य उत्सर्जन हासिल करना है। इसके तहत कंपनी अपने दोपहिया वाहनों में उपयोग हेतु हाइड्रोजन इंजन तकनीक भी विकसित कर रही है। वहीं इसके अलावा सुजुकी और होंडा के भी इस समझौते में शामिल होने और वैकल्पिक ईंधन तथा शून्य उत्सर्जन स्तर प्राप्त करने के लिए समाधान खोजने की उम्मीद जारी है।

Z400RS हो सकती है कावासाकी की पहली हाइड्रोजन बाइक

कावासाकी कंपनी ने अपनी पहली हाइब्रिड-इंजन मोटरसाइकिल निर्माण के मद्देनजर Z400RS के नाम से एक रेट्रो-थीम अर्थात पुराने मॉडल वाली मोटरसाइकिल लॉन्च करने की योजना बनाई है। इस विषय में कावासाकी का कहना है कि इस बाइक के निर्माण हेतु नए Z400RS, Z650RS और Z900RS के डिजाइन का इस्तेमाल किया जाएगा। इस आधुनिक क्लासिक बाइक को बनाने का एक और कारण ग्राहकों के बीच इसकी लोकप्रियता और अधिक मांग भी है। इसी के साथ हाल ही में कंपनी ने स्पोर्ट्स बाइक Ninja 1000SX को भारत में लॉन्च किया है।

कावासाकी के पास उपलब्ध है दुनिया का पहला तरल हाइड्रोजन वाहक

कावासाकी लंबे समय से हाइड्रोजन को वैकल्पिक ईंधन के रूप में उपयोग करने की योजना बना रहा है। वहीं अब कंपनी के पास ऐसी तकनीक मौजूद है जो संवहन इंजनों में ऑस्ट्रेलियाई कोयले से बने हाइड्रोजन का उपयोग करती है। इसके साथ ही कावासाकी हेवी इंडस्ट्रीज के पास दुनिया का पहला लिक्विड हाइड्रोजन वाहक भी मौजूद हैं, जिसे 'द सूजो फ्रंटियर' कहा जाता है। इसी के साथ ही अब कावासाकी मोटरसाइकिलों के निर्माण के अतिरिक्त भारी वाहन, हाइड्रोजन से चलने वाले इंजन और हाइड्रोजन से चलने वाले टरबाइन जनरेटर बनाने की योजना बना रहा है।

Ragini Sinha

Ragini Sinha

Next Story